- Advertisement -
- Advertisement -

Weather Update: आने वाले दिनों में अब भी दिल्ली में जमकर कोहरे और शीतलहर देखने को मिलेंगे

मौसम विभाग के अनुसार, आगामी दो दिन तक दिल्ली की सड़कों पर घना कोहरा (Dense Fog) वाहन चालकों के लिए परेशानी का सबब बन सकता है। आगामी 18 तारीख के बाद से न्यूनतम तापमान के छह से सात डिग्री सेल्सियस तक रहने की संभावना है।


Delhi Weather Update: राजधानी दिल्‍ली (Delhi) में अभी कुछ दिन और कोहरे और शीतलहर (Cold Wave) का प्रकोप जारी रहेगा।

घना कोहरा बनेगा परेशानी की वजह

मौसम विभाग के अनुसार, आगामी दो दिन तक दिल्ली की सड़कों पर घना कोहरा (Dense Fog) वाहन चालकों के लिए परेशानी का सबब बन सकता है। आगामी 18 तारीख के बाद से न्यूनतम तापमान के छह से सात डिग्री सेल्सियस तक रहने की संभावना है।

तापमान में भी दर्ज की जाएगी कमी

मौसम विभाग (IMD) के अनुसार, दिल्लीवासियों को इस सप्ताह ठंड (Delhi Cold Weather) से राहत नहीं मिलेगी। इस हफ्ते ठंडी हवाएं रात के साथ-साथ दोपहर में भी ठिठुरन को बढ़ाएंगी। न्यूनतम तापमान के साथ दिन के तापमान में भी कमी दर्ज की जाएगी। इस वजह से दोपहर में भी सर्दी का एहसास होगा।

ये भी पढ़े: Drugs Case: दामाद की गिरफ्तारी पर मंत्री Nawab Malik ने कहा- ‘मुझे हमारी न्यायपालिका पर अटूट विश्वास है’

ठंड को लेकर ऑरेंज अलर्ट

गुरुवार को राजधानी का न्यूनतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री कम 2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं, अधिकतम तापमान सामान्य से एक कम 19.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ।

आज शुक्रवार को सुबह 6 बजे दिल्ली में तापमान 4.9℃ दर्ज किया गया।

मौसम विभाग ने उत्तर भारत में ठंड की स्थिति को देखते हुए ऑरेंज अलर्ट भी जारी किया है। पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, गुरुग्राम, हापुड़, नोएडा, दिल्ली में कड़ाके की ठंड पड़ेगी और सर्द हवाएं लोगों की परेशानी बढ़ाएंगी।

वही दूसरी ओर देश में कोरोना वैक्सीनेशन की शुरुआत के साथ ही दिल्ली में स्कूल खोलने की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। राजधानी में 18 जनवरी से 10वीं और 12वीं के स्टूडेंट्स के लिए क्लासेज शुरू हो जाएंगी। सोमवार से शुरू होने वाली क्लासेज से पहले बच्चों की सेफ्टी को लेकर पूरी तैयारी की जा रही है। इसके लिए कोविड रेगुलेशन का पालन किया जाएगा। इसमें क्लासेज की टाइमिंग पहले की तुलना कम रहेगी। एक क्लास में 12 से 15 स्टूडेंट्स ही बैठेंगे। स्कूलों के कॉरिडोर में हैंडवाशिंग कंसोल और सेनिटाइजर उपलब्ध कराया जाएगा। राजधानी में अधिकतर स्कूल 10वीं और 12वीं के स्टूडेंट्स को बुलाएंगे। इसके लिए स्टूडेंट्स को दो बैच में बुलाया जाएगा। क्लास के स्टूडेंट्स को अल्टरनेट डेज पर बुलाया जाएगा।

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें