- Advertisement -
- Advertisement -

‘एक महानायक डाॅ बी. आर. आम्बेडकर’ में अथर्व कार्वे, भीमराव और श्रावणी अभंग, रमाबाई की भूमिका निभायेंगी!


एण्डटीवी के शो ‘एक महानायक डाॅ बी. आर. आम्बेडकर‘ अपने दमदार और मनमोहक कथानक और प्रतिभाशाली कलाकारों के दम पर तेजी से लोकप्रियता के शिखर पर पहुँच गया है और थोड़े ही समय में दर्शकों का चहेता शो बन गया है। इस शो ने हर समय के लिये भारत के सबसे ज्यादा प्रेरक नेताओं में से एक, डाॅ. बी. आर. आम्बेडकर की हिन्दी जीईसी स्पेस में कभी प्रस्तुत नहीं की गई जीवन गाथा दिखाकर करोड़ों भारतीयों के दिलों में अपनी खास जगह बनाई है।

20 जुलाई से इसकी कहानी नये चरण में पहुँचेगी, जब अथर्व कार्वे किशोर ‘भीमराव आम्बेडकर’ की भूमिका में नजर आयेंगे और श्रावणी अभंग को ‘रमाबाई आम्बेडकर’ का किरदार अदा करते हुए देखा जाएगा। नई सदी, नया शहर, नया विचार, पर भेदभाव… असमानता का नहीं छूटा है साथ। भीमराव करेंगे असमानता के खिलाफ संघर्ष की शुरूआत, क्या आप इस न्याय की लड़ाई में देंगे भीमराव का साथ?

भीमराव आम्बेडकर का सफल किरदार निभाने के बारे में, अथर्व कार्वे ने कहा, ‘‘हर समय के लिये प्रेरक एक नेता डाॅ बी. आर. आम्बेडकर का किरदार निभाने के लिये चुना जाना मेरे लिये सम्मान की बात है। मैं हमेशा से यह किरदार करना चाहता था और यह मेरे लिये एक सपने के सच होने जैसा है।

बाबासाहब का जीवन और विरासत कई लोगों के लिये प्रेरक रही है। उनकी प्रतिभाओं और उपलब्धियों की सूची अतुलनीय है; वे एक महान विचारक, नेता, समाज सुधारक, प्रखर राष्ट्रवादी, अर्थशास्त्री, और सबसे महत्वपूर्ण, भारत के संविधान के जनक थे। डाॅ. बी. आर. आम्बेडकर एक उत्कृष्ट नेता थे, जिनकी विरासत बेजोड़ है। उनके कद की कोई भी दूसरी शख्सियत समाज में उनके योगदान की बराबरी नहीं कर सकती है। इस कद के व्यक्तित्व का किरदार निभाना मेरे लिये एक बड़ी जिम्मेदारी और एक बड़ा क्षण है।

डाॅ. अम्बेडकर की किताबों और कार्यों ने मुझे भीतर तक प्रेरित किया है। मैं उनके बारे में बहुत कुछ पढ़ते हुए पला-बढ़ा हूँ। मैंने कभी नहीं सोचा था कि मुझे एक दिन ऐसे शो का हिस्सा बनने और खुद डाॅ. आम्बेडकर की भूमिका निभाने का मौका मिलेगा! मैं उनके बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी जुटाने के लिये उनके जीवन और विरासत का गहन अध्ययन कर रहा हूँ।

कई लेखकों द्वारा लिखी गई उनकी जीवनियों पर आधारित उनके कार्यों पर छपे विभिन्न लेखों के अलावा हमारे पास एक प्रतिष्ठित शोधकर्ता भी हैं, जो मुझे डाॅ. बी. आर. आम्बेडकर के किरदार के लिये अच्छी तरह तैयार कर रहे हैं। पढ़ने के अलावा, मैं अपने खाली समय में उन पर बनी विभिन्न डाॅक्युमेंट्रीज देखने की कोशिश भी करता हूँ। शो के कथानक में आये इस नये चरण को लेकर मैं उत्साहित हूँ और इसकी उत्सुकता से प्रतीक्षा कर रहा हूँ कि दर्शक मुझे अपने भीमराव आम्बेडकर के रूप में देखें और स्वीकार करें।”

रमाबाई आम्बेडकर का किरदार करने के बारे में श्रावणी अभंग ने कहा, “रमाबाई का किरदार निभाने के लिये चुने जाने का श्रेय मैं अपनी अच्छी किस्मत को देती हूँ। इस दमदार किरदार को निभाने का अनुभव खुशी देने वाला है। रमाबाई भीमराव आम्बेडकर सामाजिक न्याय के अगुआ डाॅ. भीमराव आम्बेडकर के लिये महानतम प्रेरणाओं में से एक रही हैं। रमाबाई के बारे में जानकारी बहुत सीमित है। इसलिये, इस शो के माध्यम से, दर्शकों को उनके और बाबासाहब के जीवन में उनकी भूमिका के बारे में बहुत ज्यादा जानने का मौका मिलेगा।

रमाबाई आम्बेडकर उन महिलाओं में से एक हैं, जिन्होंने बाबासाहब को चुप-चाप, लेकिन बड़ा सहयोग दिया था। वे नम्रता, लोचशीलता और संवेदना की प्रतीक थीं। इस रोल को निभाने और ऐसे प्रेरक शो का हिस्सा बनने का मौका मिलना मेरे लिये सचमुच सम्मान की बात है।”

आपको यह भी पसंद आ सकता है...
- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें