- Advertisement -
- Advertisement -

रिया चक्रवर्ती ने सुशांत की बहन प्रियंका सिंह समेत कई अन्य लोगों के खिलाफ दर्ज कराया मामला, जानिए वजह

दिवदंत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के मौत का मामला दिन पर दिन उलझता ही जा रहा है। अब हालही में सुशांत के केस में एक नया मोड़ आ गया है दरअसल हुआ यू हालही में रिया चक्रवर्ती ने सुशांत की बहन प्रियंका सिंह और राम मनोहर लोहिया हॉस्पिटल के डॉक्टर तरुण कुमार समेत अन्य लोगों के खिलाफ फर्जी मेडिकल प्रिस्क्रिप्शन बनाने का केस दर्ज कराया है।


रिया चक्रवर्ती ने कराया केस दर्ज – दिवदंत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के मौत का मामला दिन पर दिन उलझता ही जा रहा है। अब हालही में सुशांत के केस में एक नया मोड़ आ गया है। दरअसल हुआ यू हालही में रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) ने सुशांत की बहन प्रियंका सिंह (Priyanka Singh) और राम मनोहर लोहिया हॉस्पिटल (Dr. Ram Manohar Lohia Hospital) के डॉक्टर तरुण कुमार समेत अन्य लोगों के खिलाफ फर्जी मेडिकल प्रिस्क्रिप्शन (Medical prescription) बनाने का केस दर्ज कराया है। रिया ने जालसाजी, एनडीपीएस एक्ट और टेली मेडिसिन प्रैक्टिस गाइडलाइंस 2020 के खिलाफ केस दर्ज कराया है।

आपको बता दे, रिया के वकील सतीश मनेशिंद का कहना है कि 8 जून को सुशांत सिंह राजपूत को उनकी बहन प्रियंका सिंह ने राम मनोहर लोहिया हॉस्पिटल के डॉक्टर तरुण कुमार से फर्जी मेडिकल प्रिस्क्रिप्शन भेजा था। वकील के मुताबिक उस प्रिस्क्रिप्शन में उन दवाओं का जिक्र था, जो एनडीपीएस एक्ट के तहत आता है।

यह भी पढ़े: पूछताछ के लिए दूसरे दिन NCB ऑफिस पहुंची रिया, आज हों सकती हैं हिरासत में ?

रिया के वकील सतीश मानेशिंदे का कहना है कि प्रियंका सिंह के इसी प्रिस्क्रिप्शन को लेकर सुशांत और रिया के बीच झगड़ा हुआ था। सतीश मानेशिंद का कहना है कि- सुशांत की बहन प्रियंका ने दिल्ली से मैसेज भेजा कि ये प्रिस्क्रिप्शन है। जिसके बाद जब रिया ने प्रिस्क्रिप्शन देखा तब उन्हें पता चला कि ये प्रिस्क्रिप्शन डॉक्टर ने इन्हें एग्जामिन किए बिना भेजा है। जिसके बाद सुशांत और रिया में बहस हो गई।

रिया का कहना ता कि अगर बॉम्बे में हम डॉक्टर को मिलकर आ चुके हैं और वो डॉक्टर मिलकर दवाएं दे रहे हैं तो आपको वो दवाईयां नहीं लेनी चाहिए।

रिया के वकील सतीश मानेशिंद ने बताया था, ‘सुशांत ने कहा कि नहीं अगर मेरी बहन बोल रही है तो मैं वही दवाएं लूंगा। इसके बाद दोनों की बहस हुई। जिसके बाद सुशांत ने रिया को घर से जाने के लिए बोल दिया था। प्रिस्क्रिप्शन के मुताबिक उसमे ऐसा लिखा गया था कि सुशांत ओपीडी पेशेंट है। लेकिन जब सुशांत बॉम्बे में था वो ओपीडी पेशेंट कैसे बन सकता है।

यह भी पढ़े: सुशांत सिंह के परिवार से मिले गुंजन सिंह,सड़क पर उतर कर किया विरोध प्रदर्शन

रिया चक्रवर्ती के वकील सतीश मनेशिंद ने कहा था, ‘नंबर दो वो डॉक्टर ने कभी सुशांत को एग्जामिन किया ही नहीं है। अगली बात ये है कि जिस डॉक्टर ने सुशांत को दवा प्रिस्क्राइब की थी वो कार्डियोलॉजिस्ट है। वो साइकैट्रिस्ट नहीं है। ऐसे डॉक्टर का तो लाइसेंस कैंसिल किया जाना चाहिए। फर्जी कागजात हैं और परिवार भी इसमें मिला हुआ है, जिसके आधार पर रिया चक्रवर्ती ने कराया केस दर्ज।

सुशांत के पिता के वकील ने पहले ही कही है ये बात

सुशांत सिंह के पिता के वकील विकास सिंह पहले ही सफाई दे चुके हैं। उन्होंने कहा था, ‘8 तारीख को जब सुशांत बहुत घबराए हुए थे तो उन्होंने अपनी बहन को फोन किया था। जिसके बाद सुशांत की बहन जो दवा खुद घबराहट के लिए खाया करती थी उसने वही दवा सुशांत को खाने के लिए बोलीं। जिसके बाद जब उन्हीने बोला कि ये दवा बिना प्रिस्क्रिप्शन के नहीं मिलेगी तो उन्होंने ओरल प्रिस्क्रिप्शन करके वो दवा दिलवादी थीं।

- Advertisement -