- Advertisement -
- Advertisement -

Hathras Rape Case: स्मृति ईरानी के निशाने पर आए राहुल गांधी, बोलीं- न्याय के लिए नहीं, राजनीति के लिए जा रहे हाथरस

Smriti Irani Targeted Rahul Gandhi: उत्तर प्रदेश के हाथरस कांड (Hathras Incident) को लेकर जारी आक्रोश के बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) आज तीन दिन में आज दूसरी बार पीड़ित परिवार से मिलने की कोशिश कर रहे हैं। राहुल गांधी के हाथरस जाने को लेकर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने जोरदार निशाना साधा है। स्मृति


Smriti Irani Targeted Rahul Gandhi: उत्तर प्रदेश के हाथरस कांड (Hathras Incident) को लेकर जारी आक्रोश के बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) आज तीन दिन में आज दूसरी बार पीड़ित परिवार से मिलने की कोशिश कर रहे हैं। राहुल गांधी के हाथरस जाने को लेकर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने जोरदार निशाना साधा है। स्मृति ईरानी ने कहा कि राहुल गांधी पीड़िता के न्याय के लिए नहीं बल्कि राजनीति के लिए हाथरस जा रहे हैं। राहुल गांधी के हाथरस दौरे को देखते हुए दिल्ली-नोएडा डायरेक्ट फ्लाईवे पर सुरक्षा के इंतजाम कड़े कर दिए गए हैं।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता स्मृति ईरानी ने कहा, “जनता कांग्रेस की रणनीति से वाकिफ है… इसलिए उन्होंने 2019 में बीजेपी की जीत सुनिश्चित की. लोग समझते हैं कि हाथरस का उनका (राहुल गांधी) दौरा अपनी राजनीति के लिए है, पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए नहीं.”

आपको बता दे, हाथरस में 14 सितंबर को दलित युवती के साथ हुई दरिंदगी और हत्या के बाद से राज्य की योगी सरकार विपक्ष और लोगों के निशाने पर है। शनिवार को पुलिस ने गैंगरेप पीड़िता के घर के पास लगे बैरिकेड्स को हटा दिया और मीडिया को भी परिवार से मिलने की अनुमति दे दी गई है।

ये भी पढ़े: Uttar Pradesh के बलरामपूर में एक और दलित लड़की का हुआ गैंगरेप, अस्पताल पहुंचने से पहले ही हुई मौत

मृतिका के भाई का आरोप

मृतका के भाई ने शनिवार को आरोप लगाते हुए कहा कि एसआइटी एक दिन आई। वह अब तक की जांच से संतुष्ट नहीं हैं। बहन के साथ दुष्कर्म हुआ। यह बात फोरेंसिक और पोस्टमार्टम रिपोर्ट में छिपाई गई हैं। इन दोनों ही रिपोर्ट पर हमें विश्वास नहीं हैं। इसके साथ ही चारों आरोपित कों फांसी दी जाए। उन्होंने कहा कि इस प्रकरण को दबाने में लगे हुए हैं उन्हेंं भी सजा दी जाए। जब भाजपा के कई नेता गांव में आ सकते हैं तो पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों ने हमें बाहर जाने के साथ ही मीडिया को गांव में आने से क्यों रोका हैं। पीड़िता की भाभी ने कहा कि हमारे परिवार से किसी भी राजनीतिक नेता ने फोन पर बात नहीं की। उन्होंने कहा कि राजनेता सिर्फ राजनीति करना चाहते हैं, मुझे नहीं लगता कि वे किसी अच्छे इरादे के लिए यहां आ रहे हैं।

Smriti Irani Targeted Rahul Gandhi

आपको यह भी पसंद आ सकता है...
- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें