- Advertisement -
- Advertisement -

Asha Bhosle ने ‘नाम रह जाएगा’ के अपकमिंग एपिसोड में अपनी प्यारी बहन Lata Mangeshkar से जुड़ी खास यादों को किया साझा

आशा भोसले ने शो में अपनी बहन लता मंगेशकर को याद करते हुए कहा, "मुझे अब भी विश्वास नहीं हो रहा है कि वह चली गई है। मुझे अब भी लगता है कि मुझे कभी भी "आशा, काशी आहेस तू?" कहते हुए फोन आएगा।"


Asha Bhosle Shares Memories With Lata Mangeshkar: ‘नाम रह जाएगा’ (Naam Reh Jayegaa) के अपकमिंग एपिसोड में आशा भोसले ने अपनी बहन लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) के बारे में अमेजिंग कहानियां साझा कीं। बता दें, लोग उन्हें दीदी और ताई कहकर बुलाते थे, जो मनमोहक था। उनके पास काफी अलग व्यक्तित्व और स्टाइल था; जबकि आशा जी काफी ऑउटगोइंग थीं तो वहीं लता जी थोड़ी शर्मीली थीं।

आशा भोसले (Asha Bhosle) ने शो में अपनी बहन लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar Songs) को याद करते हुए कहा, “मुझे अब भी विश्वास नहीं हो रहा है कि वह चली गई है। मुझे अब भी लगता है कि मुझे कभी भी “आशा, काशी आहेस तू?” कहते हुए फोन आएगा।”

लता मंगेशकर वास्तव में एक मजबूत महिला थीं और उन्हें हमेशा से पता था कि उन्हें क्या चाहिए। उनका विनम्र और डाउन टू अर्थ नेचर लाखों लोगों के लिए एक मिसाल था। लता जी के विश्वास का खुलासा करते हुए, आशा जी ने साझा किया, “लता दी ने एक बार पढ़ा था कि यदि आप अपने माता-पिता के पैर धोते हैं और वह पानी पीते हैं, तो आप बहुत सफल हो जाते हैं। इसलिए उन्होंने मुझसे पानी लाने के लिए कहा, उन्होंने थाली ली, और उनके पैर धोए और हम सभी को चरण अमृत की तरह पीने के लिए कहा। वह मानती थी कि इसे पीने से हम सफल होंगे और मुझे लगता है कि यह हमारे लिए काम किया।”

आशा भोंसले ने कहा कि लता मंगेशकर के जीवन में काफी उतार-चढ़ाव आए। उन्होंने यह भी कहा कि उनकी बहन ने कभी कुछ नहीं मांगा, लेकिन केवल एक सादा जीवन जिया और कुछ घटनायों ने यह साबित भी किया।

जिसपर आगे बात करते हुए वह बताती हैं, “दीदी 80 रूपए कमाती थीं और हम उस पैसे से अपना घर चलाते थे। हम 5 लोग थे, और हमारे कई रिश्तेदार होते थे जो हमसे मिलने आते थे। दीदी ने कभी किसी को ना नहीं कहा, वह बांटने में विश्वास करती थी। कई बार हम 2 आने के लिए कुरमुरा (फूला हुआ चावल) खरीदते थे और उसे चाय के साथ खाते थे और सो जाते थे। हमें कोई शिकायत नहीं थी, वे बस खुशियों के समय थे।”

स्टारप्लस की 8 एपिसोड सीरीज ‘नाम रह जाएगा’ के जरिए लेजेन्ड्री लता मंगेशकर को खास श्रद्धांजलि देने के लिए भारत के सबसे लोकप्रिय 18 गायक एक साथ आए है। इसमें सोनू निगम, अरिजीत सिंह, शंकर महादेवन, नितिन मुकेश, नीति मोहन, अलका याज्ञनिक, साधना सरगम, उदित नारायण, शान, कुमार शानू, अमित कुमार, जतिन पंडित, जावेद अली, ऐश्वर्या मजूमदार, स्नेहा पंत, प्यारेलाल जी, पलक मुच्छल और अन्वेशा का नाम शामिल है। इसका हर एपिसोड स्टार प्लस पर हर रविवार शाम 7 बजे प्रसारित होता है। शो की कल्पना और निर्देशन गजेंद्र सिंह ने किया है।

ये भी पढ़ें: सिंगर Jaspinder Narula ने किया खुलासा मीका सिंह को चाहिए कैसी लाइफ पार्टनर, देखिये इंटरव्यू Video

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें