- Advertisement -
- Advertisement -

अपने यादगार गानो से लोगो के दिलो में हमेशा रहेंगे दिग्गज गायक Bhupinder Singh

बॉलीवुड के मशहूर गायक और गजल लेखक भूपिंदर सिंह के निधन से संगीत जगत को एक बहुत बड़ा नुकसान हुआ है


Bhupinder Singh Passes Away: बॉलीवुड के मशहूर गायक और गजल लेखक भूपिंदर सिंह का 82 साल की उम्र में निधन हो गया। भूपिंदर सिंह के निधन से संगीत जगत को एक बहुत बड़ा नुकसान हुआ है। वे लम्बे समय से बीमार थे। मुंबई के एक अस्पताल में उन्होंने आखिरी सांस ली। भूपिंदर सिंह के निधन से फिल्म जगत के लोगो ने शौक जताया। उनके निधन की खबर उनकी पत्नी मिताली सिंह ने दी। सिंगर भूपिंदर सिंह का जन्म 6 फरवरी 1940 में अमृतसर में हुआ। बचपन से ही संगीत से जुड़े रहे है। भूपिंदर सिंह की पत्नी मितली सिंह भी गायिका है। 

भूपिंदर सिंह मशहूर भारतीय संगीतकार और मुख्य रूप से एक गजल गायक थे। उन्होंने बचपन में ही अपने पिता से गिटार बजाना सीखा था। साला 1964 में संगीतकार मदन मोहन ने उन्हें पहला बड़ा ब्रेक दिया था। 

भूपिंदर सिंह ने कई बड़े हिट सांग्स फिल्म इंडस्ट्री को दिए है जिनको लोग आज भी गुनगुनाते है। उन्होंने फिल्म ‘मौसम’ ,सत्ते पे सत्ता’, अहिस्ता अहिस्ता’, ‘दूरिया’, ‘हकीकत’, और कई ने फिल्मो के गानो को अपनी आवाज़ दी है। जिनमे उनके गानो को आज भी लोग गुनगुनाते है। और खूब पसंद किया जाता है। 

फिल्म ‘मौसम’ से उनका गाना ‘दिल ढूंढ़ता है फिर वही फुर्सत के रात दिन’ यह गाना काफी हिट रहा है।  इस गाने में संजीव कुमार और शर्मीला टैगोर पर फिल्माया गया। वही फिल्म ‘सत्ते पे सत्ता’ फिल्म के सभी गाने पसंद किये गया है लेकिन इनमे से ‘दुक्की पे दुक्की हो’ इस गाने को दर्शको ने काफी सराहा था। 

भूपिंदर सिंह का गाना ‘मेरी आवाज़ ही पहचान है ,गर याद रहे’ हमेशा ही लोगो की जुबान पर रहता है। इस गाने ने अपनी एक अलग ही पहचान बनायीं है। भूपिंदर सिंह के चले जाने से उनके फैंस और फ़िल्मी हस्तिया काफी निराश है और सोशल मीडिया के जरिये उन्हें श्रद्धांजली दी जा रही है। 

ये भी पढ़े: फिल्म Vikrant Rona का कॉस्टयूम्स खुद Kichcha Sudeep ने किया हैं डिजाइन, फैंस का आया ख़ास रिस्पॉन्स

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें