- Advertisement -
- Advertisement -

Lata Mangeshkar Passes Away: 92 साल की उम्र में स्वरकोकिला लता मंगेशकर का हुआ निधन, कई दिनों से थी बीमार

स्वरकोकिला लता मगेशकर का 92 साल की उम्र में निधन हो गया ,वे कई दिनों से बीमार थी और पीछे दिनों उनकी तबियत काफी ख़राब होने की वजह से उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था


Lata Mangeshkar Dies At 92: स्वर कोकिला लता मंगेशकर की 92 की उम्र में निधन हो गया। वे कई दिनों से काफी बीमार थी। 8 जनवरी को लता मंगेशकर को कोविड पॉजिटिव पाया गया था । सावधानी बरतते हुए लता को मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। लता की उम्र को देखते हुए डॉक्टरों ने उन्हें आईसीयू में रखा हुआ था, इस बीच लता मंगेशकर का परिवार और डॉक्टर लगातार उनकी हेल्थ को लेकर अपडेट दे रहे थे। बीते दिनों खबर आई कि उनकी हालत काफी नाजुक है और आज उन्होंने अंतिम सांसे ली। फ़िल्म इंडस्ट्री या म्यूजिक इंडस्ट्री ही नही बल्कि पूरे देशभर में शोक की लहर दौड़ पड़ी है।

केन्दीय सड़क और परिहवन मंत्री नितिन गडकरी ने लता मंगेशकर के निधन की खबर को अपने ट्वीटर पर शेयर करते हुए लिखा “देश की शान और संगीत जगत की शिरमोर स्वर कोकिला भारत रत्न लता मंगेशकर जी का निधन बहुत ही दुखद है। पुण्यात्मा को मेरी भावभीनी श्रद्धांजलि। उनका जाना देश के लिए अपूरणीय क्षति है। वे सभी संगीत साधकों के लिए सदैव प्रेरणा थी।”

लता मंगेशकर के गानो को लोग हमेशा ही सुनना पसंद करते आये है। अपने संगीत करिअर में लता मंगेशकर ने कई भाषाओं में गाने गाए है और देशभर में ही नही बल्कि दुनिया के कोने कोने से उनके गानो को सुना जाता है। आज भी लोग उनसे प्रेरणा लेकर संगीत जगत में कदम रखते हक और उनकी तश्वीर को सामने रखकर संगीत सीखते है और गाने गाते है।

लता मंगेशकर का म्यूजिक इंडस्ट्री में योगदान अतुलनीय था। जिसे कभी नहीं भुलाया जा सकता। 78 साल के करियर में लता मंगेशकर ने 25 हजार गाने गाए। लता को कई सारे अवार्ड भी मिले है। नेशनल अवार्ड से उन्हें सम्मानित भी किया गया है ,देशभर में उनके निधन की खबर सुनकर सभी काफी हैरान है।  

ये भी पढ़े: Rahul Dev Movie: राहुल देव अब निर्माता सचित जैन की फैमिली एंटरटेनर फ़िल्म ‘धूप छाँव’ में पॉज़िटिव रोल में दिखाई देंगे

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें