- Advertisement -
- Advertisement -

Bihar के CM Nitish Kumar का बड़ा ऐलान, कहा- ये मेरा आखिरी चुनाव

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) ने बिहार चुनाव के अंतिम चरण के प्रचार के आखिरी दिन बड़ा ऐलान करते हुए कहा है कि ये उनका आखिरी चुनाव है।


Nitish Kumars Last Election: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) ने बिहार चुनाव के अंतिम चरण के प्रचार के आखिरी दिन बड़ा ऐलान करते हुए कहा है कि ये उनका आखिरी चुनाव है। धमदाहा में रैली (Rally) को संबोधित करते हुए सीएम ने वोटिंग की अपील करते हुए कहा, ‘आज चुनाव प्रचार का आखिरी दिन है। अब परसों चुनाव है और ये मेरा आखिरी चुनाव है। अंत भला तो सब भला.’ इसके बाद सीएम ने लोगों से वोट देने की अपील की धमदाहा विधानसभा सीट के प्रत्याशी को माला पहनाई।

आपको बता दे, नीतीश कुमार पिछले कई दिनों से लगातार चुनाव प्रचार कर रहे हैं लेकिन यह पहला मौका है जब उन्होंने ऐसी कोई बात कही है। नीतीश कुमार पिछले 15 सालों से बिहार के मुख्यमंत्री हैं और इसके पहले सीएम रेलवे मंत्री, कृषि मंत्री भी रह चुके हैं। वही दूसरी ओर आज चुनाव प्रचार के आखिरी दिन बीजेपी ने भी अपनी पूरी ताकत झोंक दी। इसी कड़ी में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) ने मिथिलांचल की हायाघाट विधानसभा सीट (दरभंगा) पर जनसभा संबोधित की। इस दौरान उनके निशाने पर तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) रहे।

ये भी पढ़े: Bhoot Police Poster: फिल्म ‘भूत पुलिस’ का फर्स्ट लुक आया सामने, अर्जुन कपूर-करीना कपूर खान ने शेयर किया फर्स्ट…

वही दूसरी ओर जेपी नड्डा ने तेजस्वी यादव पर निशाना साधते हुए कहा, ‘ये तो विनाश करने वाले हैं. विकास क्या लाएंगे? आरजेडी (RJD) के युवराज अब मोदी जी की वजह से विकास की बात करने लगे हैं.’

लालू राज का जवाब कौन देगा?

तेजस्वी के दस लाख नौकरियां देने के वादे पर जेपी नड्डा ने कहा, बजट सत्र में तेजस्वी गायब रहे। विधान सभा में जाते नहीं और नौकरी देने की बात करते हैं। नड्डा ने सवाल किया, आज ये रोजगार देने की बात कर रहे हैं, लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के राज में लाखों लोग बिहार से पलायन कर गए उसका जवाब कौन देगा?

एक साल गायब रहे तेजस्वी

विपक्ष द्वारा कोरोना को लेकर सरकार को घेरने पर पलटवार करते हुए नड्डा ने कहा, तेजस्वी कोरोना (Coronavirus) के समय दिल्ली में थे। बिहार की धरती पर आए ही नहीं। पूरे एक साल कोरोना के डर से गायब रहे अब घड़ियाली आंसू बहा रहे हैं। जबकि 15 लाख टेस्टिंग हर दिन हो रही हैं। 3 लाख वेंटिलेटर भारत ने बनाए हैं। भारत ने 150 देशों को कोरोना की दवा पहुंचाने का काम किया है।

महागठबंधन मजबूर

मोदी सरकार की योजनाओं को गिनाते हुए नड्डा ने कहा, ये बिहार के भविष्य का चुनाव है। इस चुनाव में हमें तय करना होगा, कैसा बिहार देखना चाहते हैं? एक तरफ विकास करने वाले लोग हैं और दूसरी ओर वो लोग हैं जिन्होंने बिहार को विनाश की ओर ले जाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। उन्होंने कहा, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) ने विकास का ऐसा मंत्र दिया है कि अब मजबूरी में महागठबंधन को भी विकास की बात करनी पड़ रही है।

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें