- Advertisement -
- Advertisement -

West Bengal Election 2021: रद्द हुई कोलकाता में Asaduddin Owaisi की रैली, पुलिस ने किया इजाजत देने से इनकार

एआईएमआईएम (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) की पश्चिम बंगाल के कोलकाता में गुरुवार को होने वाली रैली को पुलिस से अनुमति नहीं मिलने की वजह से रद्द कर दिया गया है।

00:03:48

आम्रपाली दुबे है क्वारंटाइन में तो वही निरहुआ ने अक्षरा सिंह से रचा लिया है विवाह !

Amrapali Dubey is in quarantine: भोजपुरीं फिल्मो के जुबली स्टेट दिनेश लाल यादव निरहुआ (Dinesh Lal Yadav Nirahua) और अक्षरा सिंह (Akshara Singh) ने...
00:03:18

ख़ेसारी की पहली फ़िल्म ‘साजन चले ससुराल’ की एक्ट्रेस नेहाश्री क्यों फुट-फुटकर रोने को हुई मजबूर !

Nehashree came live While crying bitterly: भोजपुरीं फ़िल्मो के साथ- साथ राजस्थानी फिल्म इंडस्ट्री ने अपना नाम कमाने वाली अदाकारा नेहाश्री (Neha Shree) किसी...

जिसके लिए अरविंद अकेला ने खोला ‘कल्लू डीजे’, अब उसी की शादी का मिल गया आर्डर

Arvind Akela Kallu New Bhojpuri Song 'kallu DJ'' Viral on Internet: भोजपुरी फ़िल्मो के युवा स्टार अरविंद अकेला कल्लू (Arvind Akela Kallu) का नया...

West Bengal Election 2021: एआईएमआईएम (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) की पश्चिम बंगाल के कोलकाता में गुरुवार को होने वाली रैली को पुलिस से अनुमति नहीं मिलने की वजह से रद्द कर दिया गया है। पार्टी के सूत्रों ने बताया कि ओवैसी को अल्पसंख्यक बहुल मेतियाब्रुज़ इलाके में रैली के जरिए बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी का प्रचार अभियान का आगाज़ करना था।

एआईएमआईएम के प्रदेश सचिव जमीर उल हसन ने बताया कि पुलिस ने रैली के लिए उन्हें इजाजत नहीं दी। हसन ने बताया, “हमने इजाज़त के लिए 10 दिन पहले आवेदन दिया था, मगर आज हमें पुलिस ने सूचित किया कि वे हमें रैली करने की इजाज़त नहीं देंगे। हम टीएमसी के ऐसे हथकंडों के आगे झुकेंगे नहीं। हम चर्चा करेंगे और कार्यक्रम की नई तारीख बताएंगे।” कोलकाता पुलिस ने मामले पर टिप्पणी करने से इनकार दिया है। तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के सांसद सौगत रॉय ने रैली के लिए इजाज़त नहीं मिलने में अपनी पार्टी की भूमिका से इनकार किया।

ये भी पढ़े: Indian Railway: पूर्वोत्तर रेलवे अब यात्रियों को देगा डिस्पोजल बेडरोल, जानें पूरी डिटेल

कोलकाता में भाजपा टीएमसी कार्यकर्ताओं में संघर्ष

पश्चिम बंगाल के कोलकाता में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) और भाजपा के कार्यक्रम एक ही मार्ग पर होने की वजह से दोनों दलों के कार्यकर्ताओं के बीच बुधवार को संघर्ष हो गया। जिस रास्ते से भाजपा की परिवर्तन यात्रा निकल रही थी उसी मार्ग पर टीएमसी के नेता व कार्यकर्ता धरना दे रहे थे। रोड शो में हिस्सा ले रहे भाजपा के कार्यकर्ता सियालदह की ओर बढ़ रहे थे, तभी संघर्ष शुरू हो गया। दोनों पार्टियों के झंडों को फाड़ दिया गया तथा सड़क किनारे बाइकों और पुलिस की गाड़ियों को क्षतिग्रस्त किया गया।

दोनों पार्टियों के कार्यकर्ताओं ने एक-दूसरे पर इसका आरोप लगाया। भगवा दल के सूत्रों ने दावा किया कि टीएमसी के समर्थकों ने उन पर जूते और झाड़ू फेंकी और पुलिस पर हस्तक्षेप नहीं करने का आरोप लगाया।

केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो मौके पर पहुंचे और पार्टी कार्यकर्ताओं को शांत कराया। भाजपा नेता सुवेंदु अधिकारी ने सवाल किया कि पुलिस यात्रा की अनुमति देने के बाद उसी मार्ग पर प्रतिद्वंद्वी पार्टी के कार्यक्रम को कैसे इजाजत दे सकती है। दूसरी ओर टीएमसी ने आरोप लगाया कि भाजपा के कार्यकर्ताओं ने पथराव किया और उसके कुछ समर्थकों को जख्मी कर दिया तथा गाड़ियों को नुकसान पहुंचाया। बाद में पुलिस ने सड़क खुलवाई और यात्रा शुरू हुई। यह कॉलेज स्ट्रीट पर शांतिपूर्ण तरीके से खत्म हो गई। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल रॉय़ और हाल में टीएमसी छोड़ भगवा दल में जाने वाले राजीब बनर्जी ने रोड शो में हिस्सा लिया। रोड शो के बाद एक कार्यक्रम में भारतीय क्रिकेटर अशोक डिंडा कुछ अन्य के साथ भाजपा में शामिल हो गए।

आम्रपाली दुबे है क्वारंटाइन में तो वही निरहुआ ने अक्षरा सिंह से रचा...

Amrapali Dubey is in quarantine: भोजपुरीं फिल्मो के जुबली स्टेट दिनेश लाल यादव निरहुआ (Dinesh Lal Yadav Nirahua) और अक्षरा सिंह (Akshara Singh) ने...

ख़ेसारी की पहली फ़िल्म ‘साजन चले ससुराल’ की एक्ट्रेस नेहाश्री क्यों फुट-फुटकर रोने...

Nehashree came live While crying bitterly: भोजपुरीं फ़िल्मो के साथ- साथ राजस्थानी फिल्म इंडस्ट्री ने अपना नाम कमाने वाली अदाकारा नेहाश्री (Neha Shree) किसी...

Coronavirus Maharashtra: महाराष्ट्र में 90 सीरियल्स और 20 फिल्मों-वेब शो की शूटिंग पर...

Shooting of 90 serials and 20 films web shows: बढ़ते कोरोना मामलों के चलते महाराष्‍ट्र में हिंदी और मराठी के मिलाकर 90 सीरियल और...
- Advertisement -