- Advertisement -
- Advertisement -

देश की पहली स्वदेशी ड्राइवर लैस Metro Car बनकर तैयार, राजनाथ सिंह ने किया उद्घाटन

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने शुक्रवार को देश की पहली स्वदेशी ड्राइवर लैस मेट्रो कार (Driverless Metro Car) का उद्घाटन किया।


Rajnath Singh Inaugurated India’s first indigenously developed Driverless Metro Car: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने शुक्रवार को देश की पहली स्वदेशी ड्राइवर लैस मेट्रो कार (Driverless Metro Car) का उद्घाटन किया। इस दौरान सिंह ने कहा कि भारत अर्थ मूवर्स लिमिटेड (BEML) के बेंगलुरु मुख्यालय में इंजीनियरों और तकनीशियनों की टीम अच्छा काम कर रही है जिसपर उन्हें गर्व है।

उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘वे (इंजीनियर और तकनीशियन) आत्मनिर्भर भारत के वास्तविक योद्धा हैं, जो भारत को आगे ले जा रहे हैं.’

ये भी पढ़े: Weather Update: आने वाले दिनों में अब भी दिल्ली में जमकर कोहरे और शीतलहर देखने को मिलेंगे

Rajnath Singh Inaugurated India’s first indigenously developed Driverless Metro Car

2024 तक तैयार हो जाएंगी 576 मेट्रो कार

BEML के मुताबिक, अत्याधुनिक ड्राइवर लैस मेट्रो कार कंपनी के बेंगलुरु परिसर में बनाई जा रही है जो स्टेनलेस स्टील (Stainless Steel) से बनी है और छह कारों वाली मेट्रो ट्रेन में 2,280 यात्रियों को ढोने की क्षमता है। मुंबई महानगर क्षेत्र विकास प्राधिकरण (MMRDA) की एमआरएस-1 परियोजना के लिए कुल 576 कारों के निर्माण का ऑर्डर BEML को मिला है। जनवरी 2024 तक इनकी आपूर्ति शुरू हो जाएगी।

BEML डायरेक्टर ने कही ये बात

इस अवसर पर रक्षा उत्पादन सचिव राजकुमार, BEML लिमिटेड के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक दीपक कुमार होता मौजूद थे। होता ने कहा कि BEML का मेट्रो निर्माण में प्रवेश करना भारत के शहरी परिवहन परिदृश्य के लिए निर्णायक क्षण है। बताते चलें कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बेंगलुरु परिसर में ‘एयरोस्पेस असेंबली हैंगर’ का डिजिटल उद्घाटन किया और BEML द्वारा निर्मित पहले स्वदेशी टाट्रा कैबिन का भी उद्घाटन किया।

वही दूसरी ओर राजनाथ सिंह आज कर्नाटक के दौरे पर हैं। पूर्व सैनिक दिवस (Veterans Day) को संबोधित करते हुए रक्षा मंत्री ने कहा कि हमारे सेना के जवानों ने जिस शौर्य और पराक्रम का परिचय दिया है, वह अभूतपूर्व है। हम भारत के सम्मान पर किसी भी तरह आँच नहीं आने देंगे। उन्होंने कहा कि अंग्रेजी में एक कहावत है कि ‘Once a soldier, Always a Soldier’. यह ‘वेटरेंस डे’ हमें याद दिलाता है उन Sacrifices की, जो आपने और आपके परिवार ने आपके द्वारा की गई देश की सेवा के दौरान दी है। इस दौरान उन्होंने कहा कि अब सरकार ने देश में रक्षा सेक्टर को बढ़ावा देने के लिए 83 तेजस विमान की मैन्युफैक्चरिंग का ऑर्डर HAL को दिया गया है। इस निर्णय से देश में करीब 50,000 नए रोजगार के अवसर पैदा होंगे।

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें