- Advertisement -
- Advertisement -

चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी ने अरुणाचल प्रदेश से लापता हुए 5 लोगों को भारत को सौंपा गया: सूत्र

चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) ने अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) के उन पांच पुरुषों को शनिवार को भारत को सौंप दिया जो पिछले दिनों लापता हो गए थे। सेना के सूत्रों द्वारा यह जानकारी मिली है।


Indians Missing From Arunanchal Pradesh: चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (People’s Liberation Army) ने अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) के उन पांच पुरुषों को शनिवार को भारत को सौंप दिया जो पिछले दिनों लापता हो गए थे। सेना के सूत्रों द्वारा यह जानकारी मिली है। इससे पहले शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने भी इस बाबत ट्वीट किया था। उन्होंने बताया था कि चीनी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी ने भारतीय सेना को अरुणाचल प्रदेश के युवाओं को हमारे पक्ष में सौंपने की पुष्टि की है। बता दे, खबरों के मुताबिक इन युवकों को भारत की सीमा के अंदर प्रवेश करने में अभी एक घंटे का समय लग सकता है।

बता दे, जानकारी के मुताबिक, अरुणाचल प्रदेश से गायब हुए सभी पांचों युवकों को चीन की सेना पीपुल्स लिबरेशन आर्मी ने छोड़ दिया है। सभी युवक लगभग एक घंटे पैदल सफर तय करके किबिथु सीमा चौकी पहुंचेंगे। इससे पहले केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू ने बताया था कि अरुणाचल प्रदेश के लापता हुए सभी 5 युवकों को चीनी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) शनिवार को भारत को सौंप देगी। पीएलए ने पहले पुष्टि की थी कि लापता युवकों को उनकी सरजमीं से पाया गया था और हैंडओवर की प्रक्रिया के तौर-तरीकों पर काम किया जा रहा है।

ये भी पढ़े: कंगना रनौत के सपोर्ट में आगे आए बॉलीवुड सेलिब्रिटीज, सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर कर किया विरोध

Indians Missing From Arunanchal Pradesh

बता दें अपहृत लोगों के परिवारों ने बताया था कि यह घटना शुक्रवार को जिले के नाचो इलाके में हुई थी।लापता लोगों के साथ गए दो लोग किसी तरह बचकर आने में कामयाब हुए और उन्होंने पुलिस को घटना की जानकारी दी। दरअसल, ये खबर पिछले शनिवार को एक प्रमुख स्थानीय अखबार ने एक रिपोर्ट छापी जिसमें दावा किया गया कि तागिन समुदाय के 5 लोगों, जो कि नाचो शहर के पास एक गांव के रहने वाले हैं, उनका अपहरण कर ल‍िया गया है। अखबार ने ल‍िखा क‍ि इस कथ‍ित अपहरण के वक्त वो जंगल में श‍िकार के ल‍िए गए थे।

रिपोर्ट एक रिश्तेदार के हवाले से छापी गई थी जिसने दावा किया कि उन लोगों को चीनी सेना द्वारा अगवा कर लिया गया। यह दावा एक सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए क‍िया गया जो देखते ही देखते वायरल हो गया। बता दे, इन 5 लोगों की पहचान तोच सिंगकम, प्रसात रिगलिंग, दोंगतू इबिया, तनू बाकर और नागरु दिरी के तौर पर की गई है और पांचों तागिन समुदाय से आते है।

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें