- Advertisement -
- Advertisement -

Hathras Case: हाथरस केस पीड़िता के 3 भाइयों को CBI ने भेजा समन, जल्द होगी पूछताछ

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में हुए हाथरस गैंगरेप कांड (Hathras Gangrape Case) को लेकर देश के कई शहरों में जमकर विरोध हुआ। सोशल मीडिया पर भी इस मामलें पर राजनेता (Politicians) से लेकर कई बॉलीवुड सेलिब्रिटीज (Bollywood Celebrities) ने आपत्ति जताई, और पीड़िता के लिए इंसाफ की मांग की।


Hathras Case CBI Summons 3 Brothers: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में हुए हाथरस गैंगरेप कांड (Hathras Gangrape Case) को लेकर देश के कई शहरों में जमकर विरोध हुआ। सोशल मीडिया पर भी इस मामलें पर राजनेता (Politicians) से लेकर कई बॉलीवुड सेलिब्रिटीज (Bollywood Celebrities) ने आपत्ति जताई, और पीड़िता के लिए इंसाफ की मांग की। वही दूसरी ओर अब इस मामलें को अब सीबीआई के हवाले कर दिया गया हैं। आपको बता दे, केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) दलित लड़की के साथ हुई कथित गैंगरेप की घटना की जांच बहुत ही बारीकी और तेजी से कर रही है। वही अब सीबीआई ने मंगलवार को पीड़ित के गांव पहुंचकर घटनास्थल की छानबीन की और पीड़ित परिवार से पूछताछ भी की। इस दौरान सीबीआई ने पीड़िता के एक भाई और मां से पूछताछ की थी। अब सीबीआई ने पीड़िता के अन्य तीन भाइयों को समन भेजा है और उनसे जल्द ही पूछताछ करेगी।

सीबीआई ने किया घटनास्थल की दुबारा जांच

आपको बता दे, सीबीआई की टीम ने मंगलवार को फॉरेंसिक एक्सपर्ट (Forensic expert) के साथ घटनास्थल की बारीकी से दुबारा जांच पड़ताल की। साथ ही सीबीआई की टीम पीड़िता के गांव भी गई और वह भी दुबारा पूछताछ की। सीबीआई ने उस जगह का भी मुआयना किया जहां पर पीड़िता का अंतिम संस्कार किया गया था। सीबीआई की टीम जांच पड़ताल के दौरान पीड़िता के घर लगभग आधे घंटे तक थी और परिवार के लोगों से पूछताछ की।

ये भी पढ़े: PCOD HEALTHY JUICE: पीसीओडी से परेशान महिलाएं, इस जूस की मदद से इस समस्या को हमेशा के लिए करे खत्म

Hathras Case CBI Summons 3 Brothers
Hathras Case CBI Summons 3 Brothers Of Victims For Investigation

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने पीड़िता के अंतिम संसार पर कही ये बात

इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) जो हाथरस गैंगरेप मामले की सुनवाई कर रहे है, हालही में उनकी लखनऊ बेंच ने आधी रात बिना परिवारवालों की इजाजत के पीड़ित लड़की के अंतिम संस्कार पर नाराजगी जताई है। आपको बता दे कोर्ट ने परिवारवालों की इजाजत के बिना पीड़ित का अंतिम संस्कार किए जाने पर दुःख व्यक्त किया है। हाई कोर्ट ने पीड़िता के परिवार के आधारभूत मानवाधिकारों (Basic human rights) का उल्लंघन माना है।

ये भी पढ़े: Sushant Singh Case: सुशांत डेथ केस पर सुब्रमण्यम स्वामी ने एम्स की टीम पर उठाए सवाल

इसके साथ ही आपको बताते चले हाई कोर्ट ने राज्य सरकार को पीड़ित लड़की के परिवार को पूरी सुरक्षा दने का निर्देश भी दिया है। हाई कोर्ट ने सीबीआई को निर्देश दिया है कि जांच मीडिया से शेयर नहीं होनी चाहिए। इसके साथ-साथ हाईकोर्ट ने डीएम हाथरस, एडीजी और एलओ से नाराजगी जताई और 2 नवंबर को निलंबित एसपी विक्रांत वीर को पेश होने का आदेश दिया है।

आपको यह भी पसंद आ सकता है...
- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें