- Advertisement -
- Advertisement -

Hathras: हाथरस पीड़िता के अंतिम संस्कार पर यूपी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में दिया ये बयान, जानिए पूरी डिटेल

Hathras Case UP Government Statement: उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Goverment) ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) को बताया कि कथित रूप से हाथरस (Hathras) में गैंगरेप (Gangrape) की शिकार हुई पीड़िता का अंतिम संस्कार रात में इसलिए किया गया क्योंकि ऐसी खुफिया सूचनाएं मिली थीं कि युवती और आरोपी दोनों के समुदायों के लाखों लोग राजनीतिक कार्यकर्ताओं के साथ उसके गांव में इकट्ठा होंगे।

00:01:34

जब पहली बीवी Amrita संग Kareena की Debut Film देखने गए थे Saif Ali Khan

पावर कपल कहे जाने वाले सैफ अली खान (Saif Ali Khan) और करीना कपूर (Kareena Kapoor) की शादी को आठ साल हो चुके हैं।...
00:01:12

तो इस वजह से Govinda ने नहीं की थी फिल्म Gadar

आप हिंदी फिल्मों के दीवाने हों और आपने सनी देओल (Sunny Deol) की फिल्म ग़दर: एक प्रेम कथा (Gadar: Ek Prem Katha) ना देखी...
00:02:05

क्या Raveena ने की थी Ajay Devgn के लिए Suicide की कोशिश

खबरों की मानें तो Ajay Devgn और Raveena Tandon रिलेशनशिप में थे कि तभी अजय की जिंदगी में करिश्मा की एंट्री हुई | Karisma...

Hathras Case UP Government Statement: उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Goverment) ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) को बताया कि कथित रूप से हाथरस (Hathras) में गैंगरेप (Gangrape) की शिकार हुई पीड़िता का अंतिम संस्कार रात में इसलिए किया गया क्योंकि ऐसी खुफिया सूचनाएं मिली थीं कि युवती और आरोपी दोनों के समुदायों के लाखों लोग राजनीतिक कार्यकर्ताओं के साथ उसके गांव में इकट्ठा होंगे। जिससे कानून-व्यवस्थाको लेकर बड़ी समस्या हो जाती। राज्य सरकार ने शीर्ष अदालत से मामले की जांच सीबीआई (CBI) से कराने का निर्देश देने का भी आग्रह किया। इसने दावा किया कि निहित स्वार्थ वाले लोग निष्पक्ष जांच को विफल करने का प्रयास कर रहे हैं।

राज्य ने इस बात पर जोर दिया कि, “कुछ निहित स्वार्थो द्वारा नियोजित (मुद्दे पर) जातिगत विभाजन से उत्पन्न संभावित हिंसक स्थिति को छोड़कर, दाह संस्कार जल्दी करने के पीछे कोई बुरा इरादा नहीं हो सकता।” राज्य के हलफनामे को अदालत में दायर किया गया था।

Hathras Case UP Government Statement to supreme court about victims funeral

अपने हलफनामे में, राज्य ने पीड़िता के दाह संस्कार को उचित ठहराया – जिसकी मृत्यु 29 सितंबर को दिल्ली के एक अस्पताल में हुई थी और 30 सितंबर को देर रात 2.30 बजे उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया क्योंकि “इस बात की आशंका थी कि प्रदर्शनकारी हिंसक हो सकते हैं।”

सरकार के हलफनामे में कहा गया है कि बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में भी फैसला सुनाए जाने को लेकर जिले में हाई अलर्ट था।

ये भी पढ़े: Mirzapur 2 Trailer: वेब सीरीज मिर्जापुर के सीजन 2 का ट्रेलर हुआ रिलीज, धमाल मचाने आ रहे है कालीन भैया

यह कहा गया कि हाथरस जिला प्रशासन को 29 सितंबर की सुबह से कई खुफिया जानकारी मिली थी, जिस तरह से दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में एक धरना आयोजित किया गया था और “पूरे मामले का फायदा उठाया जा रहा है और इसे एक जातिगत और सांप्रदायिक रंग दिया जा रहा है।”

ये भी पढ़े: सिंघम फेम Kajal Aggarwal के घर जल्द बजेगी शहनाई, माता-प‍िता ने ढूढ़ा बिजनेसमैन दूल्हा

इसने कहा कि ऐसी असाधारण और गंभीर परिस्थितियों में, जिला प्रशासन ने सुबह में बड़े पैमाने पर हिंसा से बचने के लिए उसके माता-पिता को मनाकर रात में सभी धार्मिक संस्कारों के साथ शव का अंतिम संस्कार कराने का फैसला लिया। पीड़िता का शव उसकी मौत और पोस्टमार्टम के बाद 20 घंटे से अधिक समय तक पड़ा रहा था।

उत्तर प्रदेश पुलिस ने कथित तौर पर 29 सितंबर को 19 वर्षीय पीड़िता के शव को दिल्ली के अस्पताल से निकाल लिया और हाथरस के बुलगड़ी गांव ले जाया गया। शोक संतप्त परिवार ने अधिकारियों से आग्रह किया कि वह अंतिम बार शव को घर ले जाने की अनुमति दें और यहां तक कि शव ले जाने वाली एम्बुलेंस को भी रोकने की कोशिश की। हालांकि, परिवार ने आरोप लगाया, वे अंतिम संस्कार के दौरान अपने घर में बंद थे।

पढ़ें ताज़ा गपशप मनोरंजन से जुडी ख़बरें , बॉलीवुड जगत की ख़बरें और गपशप , भोजपुरी फिल्मों से जुडी ख़बरें और गाने, सेलिब्रिटी न्यूज़, सेलिब्रिटी फोटोज, देश और दुनिया की ख़बरें हिंदी में - लहरें को फॉलो करें फेसबुक , ट्विटर और यूट्यूब पर.

↓       अगली खबर के लिए नीचे स्क्रॉल करें      ↓

Assembly Election 2021: जानिए आखिर क्यों 5 राज्यों के चुनाव में NRI नहीं...

Assembly Election 2021 NRI Won't be able to Vote: विदेश में रह रहे प्रवासी भारतीय मतदाताओं को मार्च और अप्रैल में पांच राज्‍यों में...

Corona Virus Vaccine: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने लगवाया कोरोना का टीका

Health minister Harsh Vardhan and his wife got the first dose of covid-19 vaccine: देश में कोरोना (Corona) संक्रमण रोकने को लेकर चल रही...

Nirahua Bhojpuri Holi Song: होली के मौके पर निरहुआ का राजनीतिक गाना का...

Dinesh Lal Yadav Nirahua​ New Bhojpuri Holi Song: भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री (Bhojpuri Film Industry) के सुपरस्टार दिनेश लाल यादव (Dinesh Lal Yadav) उर्फ निरहुआ...
- Advertisement -