- Advertisement -
- Advertisement -

Babri Masjid Demolition Case: विशेष अदालत का फैसला, बाबरी विध्वंस में आडवाणी, जोशी, कल्याण सिंह सहित सभी 32 आरोपी बरी

Babri Masjid Demolition Case: बाबरी मस्जिद विध्वंस (Babri Masjid Demolition) मामले में आज अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है। 6 दिसंबर 1992 को अयोध्या में बाबरी मस्जिद का ढांचा गिराया गया था।

00:01:34

जब पहली बीवी Amrita संग Kareena की Debut Film देखने गए थे Saif Ali Khan

पावर कपल कहे जाने वाले सैफ अली खान (Saif Ali Khan) और करीना कपूर (Kareena Kapoor) की शादी को आठ साल हो चुके हैं।...
00:01:12

तो इस वजह से Govinda ने नहीं की थी फिल्म Gadar

आप हिंदी फिल्मों के दीवाने हों और आपने सनी देओल (Sunny Deol) की फिल्म ग़दर: एक प्रेम कथा (Gadar: Ek Prem Katha) ना देखी...
00:02:05

क्या Raveena ने की थी Ajay Devgn के लिए Suicide की कोशिश

खबरों की मानें तो Ajay Devgn और Raveena Tandon रिलेशनशिप में थे कि तभी अजय की जिंदगी में करिश्मा की एंट्री हुई | Karisma...

Babri Masjid Demolition Case: बाबरी मस्जिद विध्वंस (Babri Masjid Demolition) मामले में आज अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है। 6 दिसंबर 1992 को अयोध्या में बाबरी मस्जिद का ढांचा गिराया गया था। 28 साल बाद इस केस में सीबीआई की विशेष अदालत का फैसला आया जिसमें कोर्ट ने कहा कि आरोपियों के खिलाफ पर्याप्त सबूत नहीं हैं। लिहाजा, सभी 32 आरोपियों को बरी किया जाता है।

आपको बता दे, बाबरी ध्वंस मामले में कोर्ट ने बीजेपी के कद्द्वार नेता लाल कृष्ण आडवाणी (Lal Krishna Advani), मुरली मनोहर जोशी (Murli Manohar Joshi), कल्याण सिंह (Kalyan Singh) सहित सभी 32 आरोपियों को बरी कर दिया। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के स्पेशल जज सुरेंद्र कुमार यादव ने अपना फैसला पढ़ते हुए कहा कि ये घटना पूर्व नियोजित नहीं थी, संगठन के द्वारा कई बार रोकने का प्रयास किया गया। जज ने अपने शुरुआती कमेंट में कहा कि ये घटना अचानक ही हुई थी। जज ने आगे ये भी कहा कि ये घटना पूर्व नियोजित नहीं थी, बल्कि अचानक हुई। साथ ही कोर्ट ने यह भी कहा कि भीड़ ने ढांचा गिराया था, जबकि जिन लोगों को आरोपी बनाया गया उन्होंने तो ढांचा गिराने से रोकने की कोशिश की थी।

ये भी पढ़े: BMC पर कंगना रनौत का बड़ा आरोप, कहा- ‘मेरे पड़ोसियों का घर तोड़ने की दी धमकी’

2300 पन्नों के फैसले में कोर्ट ने कहा है कि ढांचा गिराने में विश्व हिंदू परिषद का कोई रोल नहीं था, बल्कि कुछ असामाजिक तत्वों ने पीछे से पत्थरबाजी की थी और ढांचा गिराने में कुछ शरारती तत्वों का हाथ था। सीबीआई के स्पेशल जज सुरेंद्र कुमार यादव आज इस मामले में फैसला सुनाने के साथ ही रिटायर हो जाएंगे। टीवी रिपोर्ट के मुताबिक, इसके साथ सभी 32 आरोपियों के बरी कर दिया गया है। कोर्ट ने यहा माना है कि सीबीआई ने जो आरोप लगाए हैं उसके साक्ष्य नहीं मिले हैं।

बता दे, 32 में से 26 आरोपी बुधवार को लखनऊ कोर्ट पहुंचे। जबकि लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, कल्याण सिंह, उमा भारती, सतीश प्रधान और नृत्य गोपास दास वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए अदालत की कार्यवाही में शामिल हुए थे। इन तमाम आरोपियों के सामने जज सुरेंद्र कुमार यादव ने अपना फैसला सुनाया। ये एक बहुत ही पुराना केस था जिस पर अहम फैसला आया है।

पढ़ें ताज़ा गपशप मनोरंजन से जुडी ख़बरें , बॉलीवुड जगत की ख़बरें और गपशप , भोजपुरी फिल्मों से जुडी ख़बरें और गाने, सेलिब्रिटी न्यूज़, सेलिब्रिटी फोटोज, देश और दुनिया की ख़बरें हिंदी में - लहरें को फॉलो करें फेसबुक , ट्विटर और यूट्यूब पर.

↓       अगली खबर के लिए नीचे स्क्रॉल करें      ↓

Indian Railway News: बरेली से गुजरात के लिए अब चलेंगी स्पेशल ट्रेनें, जाने...

Indian Railway News: देश में कोरोना वायरस की वजह से तालाबंदी लगा हुआ था, जिसकी वजह से ट्रैन सुविधाएं भी बंद करदी गई थी।...

फ्लाइट में रानी चटर्जी,अरविंद अकेला कल्लू और काजल राघवानी की मस्ती एक साथ

Rani Chatterjee, Arvind Akela Kallu and Kajal Raghawani's fun together in flight: भोजपुरीं फ़िल्म इंडस्ट्री के कई कलाकार 5 नई फ़िल्मो के मुहूर्त के...

Kangana Ranaut के निशाने पर आए ट्विटर CEO Jack Dorsey, एक्ट्रेस ने लगाया...

Kangana Ranaut targets Twitter CEO Jack Dorsey: बॉलीवुड की क्वीन कंगना रनौत (Kangana Ranaut) आए दिन ट्विटर पर कुछ ना कुछ लिखती ही रहती...
- Advertisement -