- Advertisement -
- Advertisement -

Baba Ka Dhaba के मालिक ने ट्यूबर गौरव वासन के खिलाफ की शिकायत, कहा- गौरव ने किया विश्वासघात

‘Baba Ka Dhaba’ के मालिक कांता प्रसाद (Kanta Prasad) एक बार फिर से चर्चा का विषय बन गए हैं। आपको बता दे दक्षिण दिल्ली के मालवीय नगर में लोकप्रिय भोजनालय ‘बाबा का ढाबा’ के मालिक ने इंस्टाग्राम इनफ्लुएंसर और यूट्यूबर गौरव वासन (Gaurav Wasan) के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है।


Baba Ka Dhaba Controversy: दिल्ली के मालवीय नगर स्थित बाबा का ढाबा (Baba Ka Dhaba) अभी कुछ हफ्ते पहले ही सोशल मीडिया की सुर्खियों में आया था। अब हालही में ‘Baba Ka Dhaba’ के मालिक कांता प्रसाद (Kanta Prasad) एक बार फिर से चर्चा का विषय बन गए हैं। आपको बता दे दक्षिण दिल्ली के मालवीय नगर में लोकप्रिय भोजनालय ‘बाबा का ढाबा’ के मालिक ने इंस्टाग्राम इनफ्लुएंसर और यूट्यूबर गौरव वासन (Gaurav Wasan) के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। दरअसल उनका कहना कि गौरव ने डोनेशन के पैसों की हेराफेरी की है। कांता प्रसाद ने इस मामले पर पुलिस ने शिकायत दर्ज की है। आपको बताते चले गौरव ने ही बाबा का ढाबा का वीडियो शेयर किया था जिसमे बाबा का ढाबा के मालिक ने अपने संघर्ष के बारे में बात की और लोगों से मदद के लिए अपील किया था।

आपको बताते चले कांता प्रसाद के इस शिकायत पर पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी। हाल ही में ‘Baba Ka Dhaba’ के एक वीडियो सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर साझा किए जाने के बाद वह फेमस हो गए थे। वह वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ था, जिसमें उन्होंने लॉकडाउन के दौरान दुकान (Baba Ka Dhaba) न चल पाने से आर्थिक तंगी को लेकर रोते हुए दिखाई दिए।

ये भी पढ़े: Bigg Boss 14: एजाज-कविता की लड़ाई को लेकर खफा हुए सलमान खान, बीच में ही छोड़ा ‘वीकेंड का वार’

Baba Ka Dhaba Controversy

‘बाबा का ढाबा’ के मालिक कांता प्रसाद ने पुलिस को दी गई अपनी शिकायत में कहा कि वासन ने उनका वीडियो शूट किया और इसे ऑनलाइन पोस्ट किया और सोशल मीडिया पर जनता को उन्हें पैसे देने की अपील की। उन्होंने आरोप लगाया कि वासन ने जानबूझकर केवल अपने और अपने परिवार/दोस्तों के बैंक विवरण और मोबाइल नंबर दानदाताओं के साथ साझा किए और शिकायतकर्ता को कोई भी जानकारी प्रदान किए बिना विभिन्न प्रकार के भुगतानों के माध्यम से दान की भारी राशि एकत्र की।

‘बाबा का ढाबा’ के मालिक कांता प्रसाद ने कहा, ’25 अक्टूबर की सुबह सुशांत ने पूछा कि कितने पैसे आए हैं तो गौरव ने कहा कि 75 हजार रुपये आए हैं और ज्यादा पता नहीं है। 26 अक्टूबर को गौरव चेक लेकर आए थे। उन्होंने आगे कहा मैं नही था, शाम को घर पर आए, फिर गौरव और सुशांत में लड़ाई हो रही थी। जिसके बाद गौरव के भाई ने सुशांत पर हाथ उठाया और फिर हमे 2 लाख रुपये का चेक देकर चले गए।

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें