निर्देशक Chandan Singh की भोजपुरी फिल्म “Ek Lota Paani” की शूटिंग पूरी, एक बूंद पानी की कीमत की अहमियत बताएगी ये फिल्म

निर्देशक चंदन सिंह ने एक लोटा पानी नाम की भोजपुरी फिल्म बनाई है। जो बस चंद दिनों के बाद थियेटर में आपको देखने को मिलेगी

Chandan Singh Wraps Up Shooting For Bhojpuri Film Ek Lota Paani: उस दिन की कल्पना कीजिये जब अचानक से आपको पता चले कि धरती से पानी समाप्त हो गया है। यदि ये स्थिति आ गई तो उस दिन इंसान क्या जीवित रह पायेगा ? इसी विषय पर निर्देशक चंदन सिंह ने एक लोटा पानी नाम की भोजपुरी फिल्म बनाई है। जो बस चंद दिनों के बाद थियेटर में आपको देखने को मिलेगी। पिछले 20 दिनों से उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में जारी फ़िल्म एक लोटा पानी की शूटिंग अब समाप्त हो गई है। फ़िल्म में एक बेहद जबरदस्त पारिवारिक कहानी को एकसूत्र में पिरोकर निर्देशक चंदन सिंह ने दिखाया है, जो कि काफी खूबसूरत बन पड़ी है।

फ़िल्म में एक परिवार, एक गांव और समाज की ऐसी कहानी है जिसके अंदर आप अपने आप को भी महसूस करेंगे और इसके किरदारों को खुद से जोड़ते नज़र आएंगे। फ़िल्म एक लोटा पानी की कहानी में प्यार, इज्जत, समर्पण और त्याग की कहानी दर्शकों के सामने रखने की कोशिश की गई है। जिस प्रकार से आज के दौर में लोग सास बहू के पीछे पड़कर थोक के भाव मे फिल्में बना रहे हैं इससे ईत्तर निर्माता निर्देशक ने एक लोटा पानी के जरिये उस परिपाटी को तोड़ने और एक नया आयाम गढ़ने के लिए इस फ़िल्म का निर्माण किया है। फ़िल्म एक लोटा पानी पूरी तरीके से लीक से हटकर एक विशुद्ध समाजिक सौहार्द्र और प्रेम के ऊपर आधारित एक ऐसी फिल्म है, जिसमें आपको कदम दर कदम सच्चाई नजर आएगी।

फ़िल्म एक लोटा पानी के लिए निर्देशक चंदन सिंह को इस फ़िल्म के लिए मुख्य अभिनेता की तलाश में लंबा समय व्यतीत करना पड़ा था । कई अभिनेताओं के सम्पर्क और उनके लुक टेस्ट के बाद ये खोज आदित्य ओझा पर जाकर फाइनल हुई। निर्देशक चंदन सिंह ने बताया कि उन्हें शुरुआत से ही इस फ़िल्म के लिए एक ऐसे चेहरे की तलाश थी जो कि कहानी के फ्रेम दर फ्रेम को सही से प्रेजेंट कर सके और इस कड़ी में हमने कई अभिनेताओं से सम्पर्क किया लेकिन कोई भी उस कैरेक्टर से न्याय करता हुआ नहीं दिखा और फिर आखिर में हमें अभिनेता आदित्य ओझा मिले, इनसे मिलने और लुक टेस्ट लेने के बाद जब इन्होंने अपने आप को इस फ़िल्म के कैरेक्टर में ढाल कर दिखाया तो फिर हमने तय कर लिया कि अब हमारी तालश खत्म हो गई और हमने इनको फ़िल्म के लिए फाइनल कर लिया।

आदित्य ओझा को फाइनल करने के बाद मुख्य चुनौती हमारी अभिनेत्री को फाइनल करने की थी,वर्तमान भोजपुरी फ़िल्म जगत की स्थापित अभिनेत्रियों के चेहरे पर वो मासूमियत हमें नज़र ही नहीं आ रही थी, जो कि हमें अपने फ़िल्म के लिए तलाश थी। फिर हमें मिली मुस्कान सैनी। इस लड़की के चेहरे के हर एक्सप्रेशन और हाव भाव बिल्कुल वैसे ही निकले जैसी हमारी अभिनेत्री के लिए चाहिए था। फ़िल्म के बाकी कलाकारों का चयन चरित्रों के मिजाज के हिंसाब से और फ़िल्म जगत में इनके द्वारा निभाये गए चरित्रों में इनकी संजीदगी देखकर ही किया गया है। हाल फिलहाल फ़िल्म एक लोटा पानी की शूटिंग अब समाप्त हो गई है और अब जल्द ही इसके पोस्ट प्रोडक्शन का काम मुम्बई में शुरू किया जाएगा।

कृष कुमार एंटरटेनमेंट के साथ देव करण प्रोडक्शन प्रेजेंट्स फ़िल्म एक लोटा पानी के निर्माता चंदन सिंह व मुकेश कुमार हैं। फ़िल्म एक लोटा पानी में आदित्य ओझा सँग इस फ़िल्म में डेब्यू कर रही हैं नवोदित अभिनेत्री मुस्कान सैनी के अलावा सुप्रसिद्ध वरिष्ठ कलाकार विनोद मिश्रा, कृष कुमार, नेहक जाजू, बिना पाण्डेय, प्रकाश जैश, राम सुजान सिंह, सुबोध सेठ, नेहा सिंह, विभा सिंह, दिव्या शर्मा, साहब लालधारी और कृष्ण कुमार सोनी सहित अन्य कलाकार इस फिल्म में नजर आएंगे।

ये भी पढ़े: कल होगा Gunjan Pant की भोजपुरी फिल्म “माँ बाप का बंटवारा” का प्रीमियर…!

ताज़ा ख़बरें