- Advertisement -
- Advertisement -

Suhana Khan की ‘स्किन कलर’ वाली पोस्ट पर फूटा ट्रोल्स का गुस्सा, ट्रोलर्स ने लिखा- डार्क स्किन होना कोई शर्मिंदगी की बात नहीं

Suhana Khan Skin Colour Post: बॉलीवुड के सुपरस्टार शाहरुख (Shahrukh Khan) खान की बेटी सुहाना खान (Suhana Khan) एक बार फिर ट्रॉल्स के निशाने पर आ गई है। दरअसल, सुहाना को अक्सर सोशल मीडिया पर उनके स्किन टोन को लेकर ट्रोल किया जाता है।


Suhana Khan Skin Colour Post: बॉलीवुड के सुपरस्टार शाहरुख (Shahrukh Khan) खान की बेटी सुहाना खान (Suhana Khan) एक बार फिर ट्रॉल्स के निशाने पर आ गई है। दरअसल, सुहाना को अक्सर सोशल मीडिया पर उनके स्किन टोन को लेकर ट्रोल किया जाता है। इसी बीच सुहाना ने जब इन ट्रोल्स को एक पोस्ट के जरिए मुंहतोड़ जवाब दिया तो ट्रॉल्स के लपेटे में उनके पिता शाहरुख खान को भी खींचा गया। यहां तक कि ट्रोल्स ने उन्हें पाखंडी का टैग देते हुए पूछा कि एक ओर आप स्किन कलर को लेकर लिख रही हैं। दूसरी ओर आपके पिता फेयरनेस क्रीम का ऐड कर रहे हैं।

एक ट्विटर यूजर ने लिखा- “सुहाना खान, आपने खूब कहा कि डार्क स्किन होना कोई शर्मिंदगी की बात नहीं, बल्कि अपने आप में एक खूबसूरत चीज है। लेकिन क्या आपको नहीं लगता कि एक ऐसा ही नोट आपको अपने पिता के लिए लिखना चाहिए? वही तो हैं जो गोरे होने वाले उत्पादों को प्रमोट करते हैं। जिसकी आप पूजा करते हैं उसे आम जीवन में ढालने की पहले कोशिश करें।”

ये भी पढ़े: Corona Positive: टीवी इंडस्ट्री के पॉपुलर कपल्स गुरमीत चौधरी और देबीना बोनर्जी हुए कोरोना पॉजिटिव

Suhana Khan Skin Colour Post

वहीं, दूसरे यूजर ट्वीट पर रिप्लाई करते हुए लिखा- “मैं पूरी तरह से सुहाना खान से सहमत हूं। स्किन कलर को लेकर जो बातें बनती हैं उसपर उन्होंने जो आवाज उठाई है, वह सही है। लेकिन मुझे लगता है कि इसे खत्म करने की शुरुआत उन्हें अपने घर से करनी चाहिए। आप लोगों को पूरे तरीके से जिम्मेदार नहीं ठहरा सकती हैं, जब आपके पिता ही गोरे होने के भाव को सालों से प्रमोट कर रहे हैं।”

सुहाना खान ने लिखी थी ये पोस्ट

उन्होंने कैप्शन में लिखा, “अभी बहुत कुछ चल रहा है और यह उन मुद्दों में से एक है, जिन्हें हमें ठीक करने की जरूरत है। यह सिर्फ मेरे बारे में नहीं है, यह हर युवा लड़की और लड़के के बारे में है जो बिना किसी कारण हीन भावना के साथ बड़े हुए हैं। मेरे लुक्स को लेकर बहुत कुछ कहा गया है। जब मैं 12 साल की थी तब मुझे बताया गया कि मैं अपनी स्किन के कारण बदसूरत हूं। ऐसा कहने वालों में बड़े पुरुष और महिलाएं शामिल हैं।”

“हम सभी भारतीय मूल रूप से ब्राउन कलर के ही होते हैं। हां, हम अलग-अलग शेड्स से आते हैं, लेकिन इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपने खुद को अलग करने की कितनी कोशिश की, लेकिन आप ऐसा नहीं कर सकते। अपने ही लोगों से नफरत करने से पता चलता है कि आप खुद को लेकर कितने असुरक्षित हैं।”

सुहाना ने पोस्ट के आखिर में लिखा कि मैं माफी चाहती हूं अगर सोशल मीडिया, इंडियन मैचमेकिंग और आपके परिवार ने आपको यह यकीन दिलाया हो कि अगर आप 5’7 के नहीं हैं या फिर आपका कलर फेयर नहीं हैं तो आप सुंदर नहीं हैं। उम्मीद करती हूं कि यह आपकी मदद करेगा। मैं 5’3 इंच की हूं। मेरा कलर ब्राउन है और इसे लेकर बेहद खुश हूं। आपको भी खुश रहना चाहिए।

आपको यह भी पसंद आ सकता है...
- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें