- Advertisement -
- Advertisement -

Sonu Sood ने एक बार फिर दिखाया दरियादिल, झांसी के Corona संक्रमित मरीज को एयरलिफ्ट कर पहुंचाया हैदराबाद

सोनू सूद की टीम ने कैलाश को हैदराबाद के एक हॉस्पिटल में वेंटिलेटर के साथ आईसीयू बेड उपलब्ध कराया।


Sonu Sood arranges airlift for covid patient: देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। इस बीच जरूरतमंदो की मदद के लिए कई बॉलीवुड सितारों ने हाथ बढ़ाया है। वही दूसरी ओर बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद (Sonu Sood) पिछले एक साल से लगातार जरूरतमंद लोगों की मदद कर रहे हैं। कोरोना महामारी के बीच सोनू सूद लगातार सोशल मीडिया के जरिए कोरोना मरीजों के मसीहा बनकर खड़े हैं।

महामारी (Coronavirus Pandemic) की दूसरी लहर (Corona Second Wave) में सोनू सूद भी COVID-19 पॉजिटिव हो गए थे मगर इसके बाद भी उन्होंने लोगों की मदद करना नहीं छोड़ा। इस बार अब सोनू सूद ने एक और मिसाल कायम की है। उन्होंने बेहद सीरियस मरीज को झांसी से सीधा हैदराबाद एयरलिफ्ट (Airlift) करवाया है। सोनू सूद के इस कदम से उनके चाहने वालों की नजर में एक बार फिर उनकी इज़्ज़त बहुत बढ़ गई हैं।

जानकारी के मुताबिक झांसी के रहने वाले कैलाश अग्रवाल (Kailash Agrawal) बीते कई दिन से काफी बीमार चल रहे थे और झांसी के डॉक्टरों ने सुविधाओं के अभाव बताते हुए उन्हें किसी बेहतर अस्पताल में भर्ती किए जाने की सलाह दी थी। इसके बाद कैलाश का परिवार अच्छे अस्पताल की तलाश में था। जब कैलाश के परिवार ने एक्टर सोनू सूद से मदद की गुहार लगाई तो सोनू सूद (Sonu Sood Team) की टीम ने कैलाश के परिवार से संपर्क किया। जिसके बाद कैलाश को हैदराबाद के एक हॉस्पिटल में वेंटिलेटर के साथ आईसीयू बेड उपलब्ध कराया।

ये भी पढ़े: West Bengal Election 2021: Simi Garewal ने Mamata Banerjee की तुलना अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडन से की, जानिए क्या है वजह?

सोनू सूद (Sonu Sood) ने मीडिया से बात करते हुए कहा डॉक्टरों ने कैलाश के परिवार को किसी बड़े अस्पताल में भर्ती कराने की सलाह दी थी। मुश्किल यह थी कि एयर ऐंबुलेंस के लिए जिले के डीएम की इजाजत जरूरी होती है। चूंकि झांसी में कोई एयरपोर्ट भी नहीं है इसलिए मरीज को ग्वालियर से ही एयरलिफ्ट किया जाना था जो अपने आप में एक और समस्या थी क्योंकि इसके लिए पेशेंट को झांसी से पहले ग्वालियर लाया जाना जरूरी था। लेकिन हमारी टीम ने बेहतर इंतजाम किया और बिल्कुल वक्त बर्बाद नहीं किया। हैदराबाद के अपोलो हॉस्पिटल में अच्छा इलाज चल रहा है और हम उनके जल्द ठीक होने की उम्मीद कर रहे हैं।’

आपको यह भी पसंद आ सकता है...
- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें