- Advertisement -
- Advertisement -

Happy Birthday Rakesh Roshan: जानिए राकेश रोशन की हर फिल्म का नाम ‘K’ से क्यों शुरू होता है?

एक्टर को ‘K’ अक्षर से बड़ा लगाव है। इसके पीछे एक कहानी है, जिसे सुनकर आप भी चकित रह जायेंगे। तोह चलिए आज एक्टर के जन्मदिन के ख़ास मौके पर हम आपको इसके पीछे का राज बताएंगे।


Happy Birthday Rakesh Roshan: बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री के मशहूर डायरेक्टर, प्रोड्यूसर और एक्टर राकेश रोशन आज अपना 73वां जन्मदिन मना रहे है। उनका जन्म 6 सितंबर 1949 को मुंबई में हुआ था। एक्टर ने अपनी कड़ी मेहनत और लगन से 70 के दशक से इंडस्ट्री में खूब नाम कमाया है। राकेश (Rakesh Roshan) ने बतौर एक्टर साल 1970 में आई फिल्म ‘घर-घर की कहानी’ से बॉलीवुड में कदम रखा था, जिसके बाद आज वो एक सफल डायरेक्टर भी बन चुके हैं। बतौर निर्देशक उन्होंने करियर की शुरुआत फिल्म 1987 में ‘खुदगर्ज’ से की और इसके बाद अपने बेटे ऋतिक के साथ ‘कहो ना प्यार है’, ‘कोई मिल गया’, ‘कृष’, ‘कृष 3’ जैसी सुपरहिट फिल्में भी निर्देशित कीं।

बता दे, एक्टर को ‘K’ अक्षर से बड़ा लगाव है। इसके पीछे एक कहानी है, जिसे सुनकर आप भी चकित रह जायेंगे। तोह चलिए आज एक्टर के जन्मदिन के ख़ास मौके पर हम आपको इसके पीछे का राज बताएंगे।

क्या है ‘K’ अक्षर के पीछे का राज

आपको बता दे, दरअसल राकेश रोशन (Rakesh Roshan Birthday) को ‘K’ अक्षर के प्रति दीवानगी किसी से नहीं छुपी है। राकेश रोशन की अधिकतर हिट फिल्मों के नाम ‘K’ अक्षर के शुरू होते हैं। इसी लिए हर कोई इस ‘K’ अक्सर के पीछे छुपे राज को जानना चाहता है। तो चलिए आपको बताते है कि राकेश रोशन के बैनर तले बनी फिल्म का नाम ‘K’ से क्यों शुरू होता है? मिली जानकारी के मुताबिक़, राकेश (Rakesh Roshan Hit Movies) द्वारा प्रोड्यूस की गई फिल्म ‘आप के दीवाने’ और ‘कामचोर’ थीं। जिसे काफी पसंद किया गया था। उसके बाद राकेश जब साल 1984 में आई फिल्म ‘जाग उठा इंसान’ में बिजी थे, उस समय उनके एक फैन ने उन्हें एक लेटर भेजा जिसमें उन्हें अपनी सभी फिल्मों के नाम ‘K’ अक्षर से शुरू करने की सलाह दी गई थी। लेकिन एक्टर ने इस बात को नजरअंदाज कर दिया था।

इसके बाद राकेश रोशन (Rakesh Roshan Latest Updates) की आई फिल्म ‘जाग उठा इंसान’ रिलीज हुई। उसके बाद साल 1986 में ‘भगवान दादा’ रिलीज हुई, जोकि बॉक्स ऑफिस पर कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाई। तभी राकेश को लेटर पर लिखी बात कुछ सही लगी क्योंकि उनकी फिल्म ‘खट्टा मीठा’ और ‘खंडन’ जैसी उनकी फिल्में हिट रहीं, जिसके नाम ‘K’ से शुरू होते थे।

इसके बाद राकेश रोशन (Rakesh Roshan 10 Hit Movies) ने अपने फैन की बात को आजमाने का सोचा और फिर उनकी फिल्म ‘खुदगर्ज’ साल 1987 आई, जोकि सुपरहिट बनकर उभरी। इसके बाद राकेश (Rakesh Roshan Family) ने अपनी फिल्म से ‘K’ अक्षर को जुदा नहीं किया। उसके बाद राकेश रोशन की फिल्म ‘खून भरी मांग’, ‘काला बाजार’, ‘किशन कन्हैया’, ‘करण अर्जुन’, ‘कहो ना प्यार है’, ‘कोई मिल गया’, ‘कृष’ और ‘कृष 3’ बॉक्स ऑफिस पर हिट साबित हुई।

ये भी पढ़ें: Lalit Modi का नया बायो देगा आपको जोरदार झटका, क्या हो गया उनका Sushmita Sen के साथ ब्रेकअप

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें