- Advertisement -
- Advertisement -

Anurag Kashyap का बड़ा बयान, कहा- हम अजीब समय में जी रहे हैं जहां Sushant Singh Rajput हर रोज ट्रेंड करते हैं और…

अनुराग कश्यप ने कहा वह इस स्थिति को इमोशनल दृष्टिकोण से नहीं देखते। बल्कि उन्हें यह स्थिति एक्टर्स के लिए अनफेयर लगती हैं। पढ़ें पूरी खबर


Anurag Kashyap Talks About Boycott Culture: बॉलीवुड के जाने माने फिल्ममेकर अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap) इन दिनों अपनी अपकमिंग फिल्म दोबारा को लेकर सुर्खियों में हैं। इस फिल्म में एक्ट्रेस तापसी पन्नू मुख्य भूमिका में नजर आनेवाली हैं। वही इन दिनों यह दोनों फिल्म के प्रमोशन में जुटे हुए हैं। इसी के साथ ही इन दिनों बॉलीवुड में बायकॉट करने का ट्रेंड बना हुआ है। आमिर खान (Aamir Khan) की लाल सिंह चड्ढा (Laal Singh Chaddha) और अक्षय कुमार (Akshay Kumar) की रक्षा बंधन (Rakshabandhan) जैसी फिल्मों को नेटिजन्स ने बायकॉट की मांग की। जो सोशल मीडिया पर खूब वायरल भी हो रहा हैं। वहीं अब अनुराग कश्यप ने नेटिजन्स से अपील की है कि उनकी फिल्म दोबारा को बायकॉट करने की मांग करें और उन्हें भी आमिर खान और अक्षय की लिस्ट में शामिल करदे। मालूम हो, अनुराग कश्यप ने फिल्म इंडस्ट्री को ब्लैक फ्राइडे और गैंग्स ऑफ वासेपुर जैसी कई दमदार फिल्में दी हैं। जिसकी स्टोरी की आज भी लोग तारीफ करते नहीं थकते।

वही हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान अनुराग कश्यप ने कहा- “आज अगर मुझे ब्लैक फ्राइडे या गैंग्स ऑफ वासेपुर बनाना है, तो मुझे नहीं लगता कि मैं इसे बना सकता हूं। क्योंकि मैंने इसे देखा है, मैंने कोशिश की है, मैंने बहुत सारी स्क्रिप्ट लिखी हैं लेकिन कोई लेने वाला नहीं है। राजनीति या धर्म से जुड़ी कोई भी फिल्म कोई भी लेने के लिए तैयार नहीं है।”

आगे बात करते हुए अनुराग ने कहा, डर वास्तविक है और इसका नतीजा भी सबको दिख रहा है। उन्होंने ये भी कहा कि, अगर बहादुर दृष्टि का समर्थन करने के लिए कोई बहादुर आवाज नहीं है, तो कोई देश में फिल्में कैसे बना सकती है? “उन चीजों से लोग डरते हैं। तो आज के जमाने में आप कैसे कोई फिल्म बना सकते है?

अनुराग कश्यप ने कहा वह इस स्थिति को इमोशनल दृष्टिकोण से नहीं देखते। बल्कि उन्हें यह स्थिति एक्टर्स के लिए अनफेयर लगती हैं। उनका ऐसा कहना है कि, ”हम एक ऐसी जगह पर हैं जहाँ हमारे बीच बेहद अनुचित लड़ाई होती है। यह एक अनुचित खेल है। यदि दो टीमों के बीच मैच होता है, तो प्रत्येक टीम में 11-11 खिलाड़ी होते है। यहाँ, एक टीम में एक खिलाड़ी होता है और दूसरे में सभी 11 होते हैं, जिसमें अंपायर, बेंच पर बैठे खिलाड़ी, स्कोरबोर्ड और यहां तक ​​कि पूरा स्टेडियम भी शामिल है! वह अकेला व्यक्ति उनके विरुद्ध खड़ा होकर क्या करेगा? ऐसा कुछ भी नहीं है जो हम कर सकते हैं,”

उन्होंने आगे बात करते हुए कहा- सोशल मीडिया पर ट्रेंड होनेवाले हैशटैग फिल्म इंडस्ट्री के खिलाफ एक हथियार बन गए हैं। साल 2020 में सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु के बाद से लोगों ने इसे एक सामाजिक और राजनीतिक आंदोलन का हिस्सा बना दिया हैं। जो अभी भी कभी-कभी इंटरनेट पर हावी हो जाती है बॉलीवुड फिल्मों को बॉयकॉट करने के लिए।

अनुराग ने कहा कि देश में लोग अब “बॉयकॉट कल्चर” की सांस ले रहे हैं, जहां लोग सीधे हैशटैग का इस्तमाल कर देते है। हम बहुत अजीब समय में रह रहे हैं। यहाँ 2 साल बाद भी सुशांत सिंह राजपूत ट्रेंड करते है। ये अजीब समय है, जहां हर चीज का बहिष्कार करना है। सिर्फ फिल्म ही नहीं आज यहाँ सबकुछ बॉयकॉट किया जा रहा है। अब चाहे वो राजनीतिक दल, भारतीय क्रिकेट टीम हो। इस देश में अब बहिष्कार की संस्कृति है। अगर आप बॉयकॉट नहीं हो रहे हो तो आप मायने नहीं रखते।

फिल्म दोबारा में तापसी पन्नू लीड रोल में हैं। इसके अलावा उनके साथ पवैल गुलाटी भी नजर आएंगे। इस फिल्म का 23 जून 2022 को लंदन फिल्म फेस्टिवल में प्रीमियर हुआ था। इसके बाद यह 19 अगस्त 2022 को सिनेमाघरों में रिलीज होगी।

ये भी पढ़ें: साउथ सुपरस्टार Suriya और Jyothika अपने बच्चो के साथ हुए स्पॉट,एक्टर ने पैपराजी से बच्चो के फोटो लेने से किया मना

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें