जब Madhuri-Juhi में था 36 का आंकड़ा, एक-दूसरे संग नहीं करती थी काम, जूही ने कहा- मुझे ईगो था..

'दिल तो पागल है' को 11 फिल्मफेयर नॉमिनेशन मिले थे। 7 कैटेगरी में इस फिल्म ने अवार्ड हासिल किए थे, वहीं करिश्मा कपूर को बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस का अवार्ड भी मिला था।

जूही चावला और माधुरी दीक्षित दोनों ही 90s की टॉप एक्ट्रेस है। दोनों ही ऐसी अदाकारा रही है जिन्होंने इंडस्ट्री को एक से बढ़कर एक फिल्में दी और आईकॉनिक किरदार निभाए। दोनों का स्टारडम इतना तगड़ा था कि यह कोई भी ऐसी फिल्म नहीं करना चाहती थी जिसमें इन्हें साइड किरदार ऑफर हो। कुछ ऐसे ही हुआ था जूही चावला के साथ जब उन्होंने माधुरी दीक्षित के साथ काम करने से इनकार कर दिया। तो चलिए जानते हैं माधुरी और जूही से जुड़ा यह पुराना किस्सा क्या था?

दोनों पर हावी था स्टारडम
दरअसल, माधुरी दीक्षित और जूही चावला ने एक साथ करियर शुरू किया और एक साथ इन्हें सफलता भी हासिल हुई। दोनों ही अपने दौर की सुपरस्टार रही। जूही चावला ने यशराज बैनर के साथ कई फिल्मों में काम किया। इसी बीच यशराज ने ‘दिल तो पागल है’ की घोषणा की। यशराज बैनर ने जब दिल तो पागल है का निर्माण किया तो उनकी पहली पसंद माधुरी दीक्षित थी जबकि साइड किरदार ‘निशा’ के लिए उन्होंने जूही चावला को चुना था, लेकिन जूही चावला माधुरी के साथ साइड रोल में नजर नहीं आना चाहती थी जिसकी वजह से उन्होंने इस फिल्म में काम करने से इनकार कर दिया। इसके बाद पापुलर एक्ट्रेस करिश्मा कपूर को यह ऑफर रोल किया गया और उन्होंने इसके लिए हामी भर दी।

क्या बोली थी जूही?
बता दे जब यह फिल्म रिलीज हुई तो इसने सिनेमाघरों में ताबड़तोड़ कमाई की। फिल्म में शाहरुख खान, माधुरी दीक्षित और करिश्मा कपूर को बहुत पसंद किया गया। यह एक ट्रायंगल लव स्टोरी थी जिसके गाने आज भी लोगों के जहन में बसे हुए हैं। लंबा वक्त बीत जाने के बाद जूही चावला ने इस फिल्म को ठुकराने की वजह बताई थी। उन्होंने कहा था कि, “उनकी कुछ इनसिक्योरिटी और ईगो की समस्या थी। इस वजह से उन्होंने फिल्म को करने से मना कर दिया था। उनका मानना था कि ये इकलौता मौका था, जब वो दोनों साथ काम कर सकती थीं।”

करिश्मा को मिली थी नई पहचान
बता दे फिल्म ‘दिल तो पागल है’ को 11 फिल्म फेयर नॉमिनेशन मिले थे। इसके अलावा 7 कैटेगरी में इस फिल्म ने अवार्ड हासिल किए थे, वहीं करिश्मा कपूर को बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस का अवार्ड भी मिला था। खैर आखरी बार साल 2014 में रिलीज हुई फिल्म ‘गुलाब गैंग’ में माधुरी और जूही ने एक साथ काम किया और उनकी नाराजगी भी खत्म हो गई। अब यह दोनों एक दूसरे की अच्छी दोस्त हैं।

ये भी पढ़ें: 90s की Queen थीं Karishma, ‘कपूर खानदान’ की परंपरा तोड़ बनी हीरोइन, लेकिन ताउम्र प्यार को तरसी!

ताज़ा ख़बरें