वो एक्ट्रेस जिसकी बाथरूम से 1978 में मिले थे लाखों रुपए, पकड़े जाने पर कुबूल की थी वेश्यावृत्ति की बात!

एक्ट्रेस की एक बेटी भी है जिसका नाम प्रतिभा है लेकिन उनका करियर भी कोई खास नहीं रहा। ऐसे में उन्होंने फ़िल्मी दुनिया छोड़ दी।

70 और 80 के दशक की ऐसी कई अभिनेत्रियां रही है जिन्होंने हिंदी सिनेमा पर राज किया है। इनमें से एक ऐसी एक्ट्रेस रही थी जो आज तो गुमनामी की जिंदगी जी रही है लेकिन एक समय पर इन्होंने करीब 4 दशक तक सिनेमा जगत में राज किया है। इनका नाम उन दिनों काफी सुर्खियों में आया जब इन्होंने अपने पैसे बचाने के चक्कर में खुद को वेश्यावृत्ति के ग्रुप में शामिल कर लिया था। तो चलिए जानते हैं इस अभिनेत्री के बारे में…

गुरुदत्त ने बनाया था हीरोइन
दरअसल, हम बात कर रहे हैं हिंदी सिनेमा की मशहूर अभिनेत्री माला सिन्हा के बारे में। जी हां..माला सिन्हा एक ऐसी अभिनेत्री रही है जिन्होंने करीब 40 साल तक सिनेमाजगत पर राज किया है। इन्होंने हर बड़े अभिनेता के साथ काम किया और उनकी एक्टिंग और गायकी के लोग दीवाने थे। हालाँकि अब तो कई साल पहले ही माला सिन्हा ने इंडस्ट्री को अलविदा कह दिया। फिल्मों में कदम रखने से पहले माला सिन्हा रेडियो पर गाना गाया करती थी।

इसी बीच उन्हें बंगाली फिल्मों में काम करने का मौका मिला और फिर वह मुंबई आ गई। मुंबई आने के बाद माला सिन्हा की किस्मत चमक उठी और अचानक उनकी मुलाकात गुरु दत्त से हो गई। गुरुदत्त ने माला सिन्हा की खूबसूरती देखते ही उन्हें अपनी फिल्म में ले लिया और साथ 1957 में रिलीज हुई फिल्म ‘प्यासा’ में माला सिन्हा को बतौर अभिनेत्री कास्ट कर लिया गया। बता दे यह फिल्म इतनी हिट हुई कि माला सिन्हा रातोंरात लाइमलाइट में आ गई।

एक्ट्रेस बन गई थी सुपरस्टार
इसके बाद माला सिन्हा के पास काम की कोई कमी नहीं थी। उन्हें कई फिल्में ऑफर हुई। उन्होंने ‘पैसा ही पैसा’, ‘झांसी की रानी’, ‘एकादशी’, ‘रियासत’, ‘बादशा’ जैसी करीब 100 से फिल्मों में काम किया और इंडस्ट्री पर राज करने लगी। माला सिन्हा को लेकर अक्सर यह बात कही जाती है कि वह पैसे को लेकर काफी कंजूस थी। ऐसे में उन्होंने अपने घर पर नौकर भी नहीं रखे थे और अपने घर का सारा काम खुद किया करती थी।

इसी बीच माला सिन्हा के मुंबई स्थित घर पर इनकम टैक्स का छापा पड़ा जिसमें उनकी बाथरूम की दीवार से करीब 12 लाख रुपए बरामद हुए थे। बता दे माला सिन्हा के बाथरूम से 12 लाख रुपए मिलना उन दिनों बहुत बड़ी बात हुआ करती थी। इसी बीच इनकम टैक्स अधिकारी ने इन पैसों की जब्त करने की बात कही तो माला ने इन पैसों को बचाने के लिए एक ऐसा बयान दिया जिसे सुनकर हर कोई हैरान रह गया।

एक झटके में बर्बाद हुआ करियर
माला सिन्हा ने अपने इन पैसों को बचाने के लिए कोर्ट में यह लिख दिया था कि उन्होंने यह पैसे वेश्यावृत्ति करके कमाए हैं। माला सिन्हा ने ऐसा बोलकर अपने पैसे तो बचा लिए लेकिन उनकी इज्जत की धज्जियां उड़ गई थी। लोग उन्हें गलत निगाह से देखने लगे थे और उनके करियर पर भी इसका गहरा असर देखने को मिला। इसी बीच उनके हाथों से कहीं फिल्में निकल गई। ऐसे में माला सिन्हा ने साल 1966 में एक नेपाली एक्टर चिदंबर प्रसाद लोहानी से शादी रचा ली।

इस शादी से माला सिन्हा को एक बेटी हुई जिसका नाम प्रतिभा सिन्हा है। प्रतिभा सिन्हा को आपने ‘राजा हिंदुस्तानी’ के मशहूर गाने ‘परदेसी परदेसी जाना नहीं’ में देखा होगा लेकिन उनका करियर भी कोई खास नहीं चला। जब माला सिन्हा की बेटी का करियर भी फिल्मों में नहीं चला तो वह इससे काफी निराश हो गई और उन्होंने इस ग्लैमरस दुनिया को अलविदा कह दिया। रिपोर्ट की माने तो माला सिन्हा इन दिनों अपनी बेटी के साथ मुंबई में रहती है।

ये भी पढ़ें: जब नशे में धुत Bobby Deol को गार्ड ने मारा जोरदार थप्पड़, उस रात खूब हुआ था बवाल, जानें पूरी घटना!

ताज़ा ख़बरें