कपूर खानदान का चिराग है ये बच्चा, बचपन में ही हासिल कर लिया था नेशनल अवॉर्ड, फिर एक बीमारी ने ले ली जान, बताओ कौन?

एक्टर ने साल 1970 में आई फिल्म 'मेरा नाम जोकर' में उन्होंने काम किया था। इस दौरान उनकी उम्र 14 साल थी और उन्हें इस फिल्म के लिए बेस्ट चाइल्ड एक्टर का नेशनल अवार्ड भी मिला था।

सोशल मीडिया का दौर है, ऐसे में फिल्मी सितारे से जुड़ना अब कोई कठिन काम नहीं रहा। जी हां.. सोशल मीडिया के माध्यम से फैंस अपने सितारे को हर रोज देख सकते हैं। यहां पर सितारे भी अपनी दुनिया से जुड़ी तस्वीरें, वीडियो अपने फैंस के साथ साझा करते रहते हैं। वहीं पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर अक्सर फिल्मी सितारों के बचपन की तस्वीर वायरल होती है जिन्हें देखने के बाद फैंस के बीच इन्हें पहचानने की होड़ मची रहती है। अब इसी बीच हिंदी सिनेमा के दिग्गज अभिनेता के बचपन की तस्वीर वायरल हुई हो रही है, लेकिन इन्हें पहचान पाना थोड़ा मुश्किल है। तो चलिए जानते हैं तस्वीर में नजर आ रहा है यह बच्चा कौन?

कौन है ये बच्चा?
कंजी आंख वाला यह बच्चा हिंदी सिनेमा का दिग्गज अभिनेता है जिन्होंने कई फिल्मों में रोमांटिक किरदार निभाए हैं। इन्हें बॉलीवुड इंडस्ट्री का पहला रोमांटिक हीरो कहा जाता है और यह कई सुपरहिट फिल्मों का हिस्सा भी रहे। इस बच्चे का ताल्लुक कपूर खानदान से है और इनका नाम हिट हीरो की गिनती में है। हालांकि येअब इस दुनिया में नहीं रहे।

दरअसल यह कोई और नहीं बल्कि बॉलीवुड इंडस्ट्री के जाने-माने अभिनेता ऋषि कपूर है। जी हां.. 4 सितंबर 1952 को कपूर खानदान में जन्मे ऋषि कपूर के पिता राज कपूर और मां कृष्णा कपूर थी। बचपन से ही ऋषि कपूर का फैमिली बैकग्राउंड फिल्मी रहा। ऐसे में उनके अंदर भी एक्टिंग का भूत सवार था और वहा इंडस्ट्री के बेहतरीन अभिनेता बनकर भी उबरे।

छोटी सी उम्र में कमाया नाम
बता दे ऋषि कपूर ने साल 1970 में आई फिल्म ‘मेरा नाम जोकर’ में उन्होंने काम किया था। इस दौरान उनकी उम्र 14 साल थी और उन्हें इस फिल्म के लिए बेस्ट चाइल्ड एक्टर का नेशनल अवार्ड भी मिला था। इसके बाद उन्होंने फिल्म ‘बॉबी’ से अपने करियर की शुरुआत की और उन्हें पहली फिल्म के लिए बेस्ट एक्टर का अवार्ड मिला। इसके बाद तो वह करीब 300 से ज्यादा फिल्मों में नजर आए।

ऋषि कपूर ने अपने करियर में ‘इना मीना डीका’, ‘प्रेम ग्रंथ’, ‘चांदनी’, ‘नगीना’, ‘दीवाना’, ‘बोल राधा बोल’, ‘साजन की बाहों में’, ‘अमर अकबर एंथोनी’ जैसी कहानी सुपरहिट फिल्मों में काम किया, लेकिन इसी बीच साल 2018 में ऋषि कपूर कोल्यूकीमिया यानी ब्लड कैंसर हुआ जिसकी वजह से न्यूयॉर्क में लगभग 1 साल तक उनका इलाज चला। फिर साल 2019 में वह भारत आ गए लेकिन कुछ समय के बाद 30 अप्रैल 2020 को वह इस दुनिया को अलविदा कह गए।

ये भी पढ़ें: उनमें एटीट्यूड की दिक्कत है और उनका परिवार भी… जब Rishi Kapoor को लेकर बोले थे अक्षय खन्ना!

ताज़ा ख़बरें