करोड़ों का मालिक, लाइमलाइट का शौक नहीं, कैमरे के पीछे से किया जादू, पहली पत्नी को छोड़ रानी मुखर्जी से की सीक्रेट शादी!

आदित्य चोपड़ा लाइमलाइट के शौकीन नहीं है। न वह कभी कैमरे के सामने आते हैं न उन्हें किसी अवॉर्ड फंक्शन में देखा जाता है। आदित्य चोपड़ा को हमेशा केवल कैमरे के पीछे रहना पसंद है।

बॉलीवुड इंडस्ट्री के सबसे टैलेंटेड और मशहूर निर्देशक आदित्य चोपड़ा का नाम तो आपने सुना ही होगा। जी हां.. वही आदित्य चोपड़ा जो मशहूर फिल्म निर्देशक यशराज चोपड़ा के बेटे हैं जिन्होंने पापुलर एक्ट्रेस रानी मुखर्जी से शादी रचाई है। हालांकि आदित्य की केवल यही पहचान नहीं है। उन्होंने अपनी मेहनत की बलबूते पर बॉलीवुड इंडस्ट्री में बड़ा मुकाम हासिल किया और दर्शकों को एक से बढ़कर एक सुपरहिट फिल्में दी। आज यानी की 21 मई को आदित्य चोपड़ा अपना 53वां जन्मदिन सेलिब्रेट कर रहे हैं। तो चलिए जानते हैं उनके जीवन से जुड़ी कुछ ख़ास बातें..

बचपन से फिल्मों का शौक
21 मई 1971 को मशहूर निर्देशक यशराज चोपड़ा के घर पैदा हुए आदित्य चोपड़ा का बचपन से ही फिल्में दुनिया से नाता था और यही वजह है कि बड़े होकर वह मशहूर निर्देशक बने। शुरुआत में उन्होंने अपने पिता यश चोपड़ा के साथ असिस्टेंट डायरेक्टर के रूप में काम किया। यहां पर उन्होंने बारीकी सीखी और फिर उन्होंने अपने निर्देशन करियर की शुरुआत की। सबसे पहले आदित्य चोपड़ा ने शाहरुख खान और काजल के साथ फिल्म ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे’ बनाई जो हिंदी सिनेमा की सबसे बड़ी फिल्मों में से एक है। आज भी इस फिल्म का जलवा बरकरार है। इसकी कहानी, इसके गाने आज भी दर्शकों के दिलों पर राज करते हैं।

इसके बाद उन्होंने फिल्म ‘मोहब्बते’ बनाई जो भी बॉक्स ऑफिस पर सफल साबित हुई। फिर उन्होंने ‘रब ने बना दी जोड़ी’, ‘वीर-जारा’, ‘बैंड बाजा बारात’, ‘जब तक है जान’, ‘बंटी और बबली’ ऐसी कई फिल्में है जो बॉक्स ऑफिस पर तहलका मचाने में कामयाब रही। तो वही आदित्य चोपड़ा को इन्होंने एक नया मुकाम दिया। आदित्य चोपड़ा महज निर्देशक ही नहीं बल्कि वह बहुत ही अच्छे लेखक भी है। जी हां उन्होंने निर्देशन के साथ-साथ कई कविताएं और डायलॉग भी लिखे हैं।

रानी से की गुपचुप शादी
बात की जाए आदित्य चोपड़ा के निजी जीवन के बारे में तो उनकी पहली शादी साल 2001 में पायल खन्ना के साथ हुई थी, लेकिन उनकी यह शादी ज्यादा दिनों तक नहीं टिक पाई और साल 2002 में यह दोनों एक दूसरे से अलग हो गए। इसके बाद आदित्य चोपड़ा लंबे समय तक सिंगल रहे। फिर उनकी जिंदगी में रानी मुखर्जी ने दस्तक दी। दरअसल, ‘वीर जारा’ के सेट पर आदित्य और रानी के बीच नजदीकियां बड़ी और यही से उनके रिश्ते की शुरुआत हुई। फिर उन्होंने लंबे समय तक एक दूसरे को डेट किया और साल 2014 में इटली में इन्होंने गुपचुप तरीके से शादी रचा ली। रानी और आदित्य की एक बेटी है जिसका नाम आदिरा है।

लाइमलाइट से दूर रहते हैं आदित्य
बता दें, आदित्य चोपड़ा लाइमलाइट के शौकीन नहीं है। न वह कभी कैमरे के सामने आते हैं न उन्हें किसी अवॉर्ड फंक्शन में देखा जाता है। इतना ही नहीं बल्कि वह सोशल मीडिया का भी इस्तेमाल नहीं करते। आदित्य चोपड़ा को हमेशा केवल कैमरे के पीछे रहना पसंद है और कैमरे के पीछे रहकर ही उन्होंने दर्शकों पर जादू किया हुआ है।

ये भी पढ़ें: पिता की उम्र के शख्स ने मुझे रात को 3 बजे.. Casting Couch पर छलका Manisha Rani का दर्द!

ताज़ा ख़बरें